DDA यहां बसाने जा रहा है आलीशान टाउनशिप, मेट्रो-स्कूल और बाकी सभी सुविधाएं होंगी उपलब्ध!

DDA के द्वारा पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (PPP) मॉडल के साथ ट्रांजिट ओरिएंटेड डेवलपमेंट नॉर्म के अनुसार इस हब को तैयार किया जाएगा.

DDA के द्वारा पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (PPP) मॉडल के साथ ट्रांजिट ओरिएंटेड डेवलपमेंट नॉर्म के अनुसार इस हब को तैयार किया जाएगा.

डीडीए 6518 आवास यूनिट्स इस जगह पर विकसित करेगा, जिसमें आवासीय और कमर्शियल दोनों मिक्स यूनिट होंगी. एक बड़े एरिया में ग्रीन एरिया भी डेवल्प किए जाने की योजना है. यह अपने आप में पहला प्रोजेक्ट है, जोकि पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप मॉडल पर डीडीए के साथ तैयार किया जा रहा है. इसको 2024 से पहले पूरा किये जाने की ‍संभावना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 18, 2021, 9:41 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली विकास प्राधिकरण (Delhi Development Authority) की ओर से पूर्वी दिल्ली के कड़कड़डूमा (Karkardooma) इलाके में पूर्वी दिल्ली हब एकीकृत विकास (Integrated Development of East Delhi Hub) का निर्माण किया जा रहा है.

डीडीए 6518 आवास यूनिट्स इस जगह पर विकसित करेगा, जिसमें आवासीय और कमर्शियल दोनों मिक्स यूनिट होंगी. एक बड़े एरिया में ग्रीन एरिया भी डेवल्प किए जाने की योजना है. यह अपने आप में पहला प्रोजेक्ट है, जोकि पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप मॉडल पर डीडीए के साथ तैयार किया जा रहा है. इसको 2024 से पहले पूरा किये जाने की ‍संभावना है.

बताया जाता है कि यह ऐसा प्रोजेक्ट है, जिसको DDA द्वारा पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (PPP) मॉडल के साथ ट्रांजिट ओरिएंटेड डेवलपमेंट नॉर्म के अनुसार तैयार किया जाएगा. डीडीए की ओर से तैयार किये जाने पर अनुमानित प्रोजेक्ट लागत 1168 करोड़ रुपए निर्धारित की गई है. इसके लिये कुल 29.60 हेक्टेयर भूमि का चयन किया गया है.

इस प्रोजेक्ट की खासियत यह होगी कि इसमें आवासीय और वाणिज्यिक दोनों यूनिट मिक्स रूप से तैयार होंगी. इस प्रोजेक्ट के पूरा करने के दौरान ग्रीन एरिया का भी विशेष ख्याल रखा गया है. ग्रीन एरिया के लिए 7.82 हेक्टेयर भूमि को अलग से रखा जाएगा.
एनबीसीसी (NBCC) की ओर से तैयार किए जाने वाले इस प्रोजेक्ट में 6518 आवास यूनिट्स शामिल होंगी. इसमें 1992 आवास यूनिट्स आर्थिक रूप से कमजोर श्रेणी के लोगों के लिए होंगी. इसमें डीडीए की ओर से स्कूल, डिस्पेंसरी, पुस्तकालय, सांस्कृतिक केंद्र, सामुदायिक हॉल, सुविधाजनक खरीदारी, सामुदायिक स्थान, क्रैच आदि जैसी विभिन्न सुविधाओं को भी मुहैया कराया जाएगा.

इतना ही नहीं इस प्रोजेक्ट को तैयार करते हुये इसका भी विशेष ख्याल रखा जाएगा कि डीएमआरसी  (DMRC) के दो मेट्रो स्टेशन इस कमर्शियल कॉम्‍प्‍लेक्‍स को कनेक्टिविटी प्रदान करेंगे. वहीं, पर्यावरण के अनुकूल ग्रीन बिल्डिंग फीचर, स्काईवॉक कनेक्टिविटी और सांस्कृतिक केंद्र परियोजनाओं आदि की भी उल्लेखनीय विशेषताएं इसमें समावेश की जाएंगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज