• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • सैनिकों का पीछे हटना एक जटिल प्रक्रिया- सीमा विवाद पर बोला विदेश मंत्रालय

सैनिकों का पीछे हटना एक जटिल प्रक्रिया- सीमा विवाद पर बोला विदेश मंत्रालय

विदेश मंत्रालय ने सीमा विवाद को लेकर जानकारी दी है (फाइल फोटो)

विदेश मंत्रालय ने सीमा विवाद को लेकर जानकारी दी है (फाइल फोटो)

विदेश मंत्रालय (MEA) ने कहा है कि सैनिकों का पीछे हटना एक जटिल प्रक्रिया (Complex Procedure) है, जिसके तहत दोनों तरफ नियमित चौकियों पर सैनिकों की फिर से तैनाती की जाती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
     नई दिल्ली. चीन के साथ चल रहे सीमा विवाद (Border Dispute) को लेकर विदेश मंत्रालय ने कहा है कि सैनिकों को पीछे हटाने की प्रक्रिया जटिल (Complex Procedure) है. मंत्रालय ने कहा है कि सैनिकों का पीछे हटना एक जटिल प्रक्रिया है, जिसके तहत दोनों तरफ नियमित चौकियों पर सैनिकों की फिर से तैनाती की जाती है. कोर कमांडर स्तर की वार्ता के बाद जारी संयुक्त बयान से वास्तविक नियंत्रण रेखा पर तनाव कम करने के लिए दोनों पक्षों की प्रतिबद्धता जाहिर होती है.

    जारी रहेगी वार्ता
    साथ ही विदेश मंत्रालय ने जानकारी दी है कि भारत-चीन सीमा मामलों पर विचार-विमर्श और समन्वय के लिए कार्यकारी तंत्र की अगली बैठक जल्द हो सकती है. दोनों पक्ष सैनिकों को पीछे हटाने के लिए वार्ता जारी रखेंगे और यथास्थिति में बदलाव के किसी भी एकतरफा प्रयास से परहेज करेंगे.

    बैठक का ये निकला नतीजा
    गौरतलब है कि मंगलवार को भारत और चीन (India-China) के बीच 14 घंटे चली छठे दौर की सैन्य वार्ता के दौरान पूर्वी लद्दाख (East Ladakh) में अत्यधिक ऊंचाई पर स्थित टकराव बिंदुओं के पास तनाव कम करने के तरीकों पर ध्यान केंद्रित किया गया. सैन्य अधिकारियों ने कहा कि इस मैराथन वार्ता का परिणाम सोमवार को तत्काल पता नहीं चला है, लेकिन ऐसा समझा जाता है कि दोनों पक्षों ने वार्ता आगे बढ़ाने के लिए फिर से बैठक करने पर सहमति जताई है. वहीं, न्‍यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, इस वार्ता में भारत ने जोर दिया कि चीन को उस पोजिशन पर वापस जाना चाहिए जहां वह अप्रैल-मई से पहले मौजूद था.

    चीन ने भी रखी भारत के सामने ये मांग
    भारत और चीन एक दूसरे से बातचीत जारी रखने पर सहमत हुए हैं. वहीं चीन ने वार्ता के दौरान कहा कि भारत दक्षिण के तट पैंगोंग पर 29 अगस्‍त के बाद कब्‍जे वाले पोस्‍टों को खाली करे. सरकारी सूत्रों ने बताया कि वार्ता के दौरान भारतीय पक्षों ने सभी टकराव बिंदुओं से चीनी बलों को शीघ्र एवं पूरी तरह हटाए जाने पर जोर दिया. भारत ने इस बात पर भी जोर दिया कि तनाव कम करने के लिए पहले कदम चीन को उठाना है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज