लाइव टीवी

कोलकाता पुलिस की हिरासत में शख्स की मौत, मजिस्ट्रेट ने दर्ज किए चश्मदीदों के बयान

News18Hindi
Updated: February 14, 2020, 1:59 AM IST
कोलकाता पुलिस की हिरासत में शख्स की मौत, मजिस्ट्रेट ने दर्ज किए चश्मदीदों के बयान
पुलिस हिरासत में मौत: न्यायिक मजिस्ट्रेट ने चश्मदीदों के बयान दर्ज किए (फाइल फोटो)

राजकुमार शॉ नाम के शख्स की मौत सोमवार को पुलिस हिरासत में हो गई थी. शॉ के परिवारवालों का आरोप है कि पुलिस अशुरा बीबी को किसी जगह ले गई थी ताकि वास्तविक कहानी छुपाई जा सके.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 14, 2020, 1:59 AM IST
  • Share this:
कोलकाता. कोलकाता (Kolkata) के सिनथी थाने में एक व्यक्ति की पुलिस हिरासत में हुई मौत के मामले में एक न्यायिक मजिस्ट्रेट ने चश्मदीदों का बयान दर्ज किया है. मजिस्ट्रेट ने उस महिला (Woman) का भी बयान दर्ज किया जो कथित तौर पर लापता चल रही थी.

सियालदह अदालत के एक न्यायिक मजिस्ट्रेट ने इस संबंध में चश्मदीदों के बयान दर्ज किए. इसमें अशुरा बीबी भी शामिल हैं. जिनका पता करीब 38 घंटे के बाद लगा था. शॉ के छोटे बेटे ने आरोप लगाया कि हम मंगलवार सुबह से आशुरा बीबी का पता नहीं लग पाया. उसे रैन बसेरा के आसपास कहीं भी नहीं देखा गया. पुलिस ने इस घटना के पीछे की सच्चाई को छिपाने के लिए उसे एक अज्ञात स्थान पर ले गई.

3 पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज

उन्होंने कहा, "पुलिस ने सोमवार रात को सिंधी पुलिस स्टेशन के पिछले दरवाजे से आशुरा बीबी को ले जाने की कोशिश कर रही थी. लेकिन तभी लोगों ने पुलिस को देख लिया. जिसके बाद उन्होंने मीडिया से बात की. बता दें कि सोमवार को पुलिस हिरासत में शॉ की मौत के बाद तीन पुलिसकर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था.

मुख्य न्यायाधीश टीबीएन राधाकृष्णन और न्यायमूर्ति अरिजीत बैनर्जी की खंडपीठ ने याचिका पर सुनवाई करते हुए पश्चिम बंगाल सरकार को 25 फरवरी को शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया है.

परिजनों का आरोप- पुलिस की प्रताड़ना से हुई बेटे की मौत
राजकुमार शॉ नाम के शख्स की मौत सोमवार को पुलिस हिरासत में हो गई थी. शॉ के परिवारवालों का आरोप है कि पुलिस अशुरा बीबी को किसी जगह ले गई थी ताकि वास्तविक कहानी छुपाई जा सके. मृतक के परिवार का दावा है कि शॉ की मौत पुलिस की प्रताड़ना से हो गई थी.(भाषा इनपुट के साथ)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 1:59 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर