अपना शहर चुनें

States

महाराष्ट्र, हरियाणा में कुक्कुट पक्षियों को मारे जाने का सिलसिला जारी: केन्द्र

देश के 11 राज्यों में अब तक बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है. (सांकेतिक तस्वीर)
देश के 11 राज्यों में अब तक बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है. (सांकेतिक तस्वीर)

Bird Flu: कुक्कुट में ही नहीं पन्ना, सांची, रायसेन और बालाघाट में भी कौओं, श्योपुर में कौओं और उल्लू जबकि मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में हंस और कबूतर में इस बीमारी की पुष्टि की गई है.

  • Share this:
नई दिल्ली. केन्द्र ने रविवार को कहा कि महाराष्ट्र (Maharashtra) और हरियाणा (Haryana) में कुक्कुट पक्षियों को मारे जाने का सिलसिला जारी है जबकि मुंबई (Mumbai) के साथ-साथ मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मंदसौर (Mandsaur) जिले में पोल्ट्री में बर्ड फ्लू (Bird Flu) के नये मामलों की पुष्टि भी की गई है. अब तक 11 राज्यों- छत्तीसगढ़, दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और गुजरात में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है.

केन्द्र ने हालांकि राज्यों से अनुरोध किया है कि वे ‘‘कुक्कुट पक्षियों और इनसे संबंधित उत्पादों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने के अपने फैसलों पर पुनर्विचार करें और गैर-संक्रमित क्षेत्रों/ राज्यों से इन उत्पादों की बिक्री की अनुमति दें.’’ मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि केन्द्रीय कुक्कुट विकास संगठन (सीपीडीओ), मुंबई और मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में खेड़ा रोड पर कुक्कुट में बर्ड फ्लू के मामलों की पुष्टि की गई है.

ये भी पढ़ें- CM नीतीश से मिले संजय जायसवाल और तारकिशोर प्रसाद, मंत्रिमंडल विस्तार पर हुई चर्चा



इन पक्षियों में भी हुई बर्ड फ्लू की पुष्टि
बयान में कहा गया है कि कुक्कुट में ही नहीं पन्ना, सांची, रायसेन और बालाघाट में भी कौओं, श्योपुर में कौओं और उल्लू जबकि मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में हंस और कबूतर में इस बीमारी की पुष्टि की गई है.

इसमें कहा गया है कि बस्तर में कौए और कबूतर में जबकि छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में कौए में इस वायरल बीमारी की पुष्टि हुई है. इसी तरह उत्तराखंड़ के हरिद्वार और लैंसहाउन से भी कौओं के नमूनों में इस बीमारी की पुष्टि हुई है.

इसके अलावा दिल्ली के रोहिणी में बगुलों के नमूने बर्ड फ्लू के लिए पॉजिटिव पाये गये है.

महाराष्ट्र पशुपालन विभाग ने किसानों को पक्षियों की किसी भी असामान्य मृत्यु की रिपोर्ट करने के लिए एक टोल-फ्री हेल्पलाइन शुरू की है.

ये भी पढ़ें- औरंगाबाद का नाम बदलने पर शिवसेना-कांग्रेस में तकरार, थोराट बोले- गठबंधन स्थिर

इसके अलावा, मंत्रालय ने कहा कि मध्य प्रदेश में रैपिड रिस्पांस टीम (आरआरपी) तैनात की गई है.

मंत्रालय ने कहा, ‘‘आज राजस्थान और गुजरात से लिए गए नमूनों को एवियन इन्फ्लुएंजा के लिए नकारात्मक पाया गया है.’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज