अपना शहर चुनें

States

दीप सिद्धू ने फेसबुक लाइव पर कहा- मैं हर जांच के लिए तैयार, बस कुछ समय दीजिए

दीप सिद्धू ने फेसबुक लाइव में खुद को एक बार फिर बताया निर्दोष.
दीप सिद्धू ने फेसबुक लाइव में खुद को एक बार फिर बताया निर्दोष.

दिल्‍ली हिंसा (Delhi Violence) के मुख्‍य आरोपी कहे जाने वाले दीप सिद्धू (Deep Sidhu) ने फेसबुक लाइव (Facebook Live) के दौरान कहा कि उनके खिलाफ कई तरह की गलत जानकारी फैलाई जा रही है. जब मैंने कुछ गलत नहीं किया है तो मुझे किसी से भी भागने की जरूरत नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 10:08 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन किसानों की ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) में हुई हिंसा और लाल किले पर एक धार्मिक ध्वज लहराए जाने के मुख्य आरोपी दीप सिद्धू (Deep Sidhu) ने एक बार फिर फेसबुक लाइव के जरिए अपने आपको निर्दोष बताया है. दीप सिद्धू ने कहा कि मुझे पता चला है कि मेरे खिलाफ गिरफ्तारी वारंट और लुकआउट नोटिस जारी किया गया है. मैं कुछ ही दिनों में जांच एजेंसी के सामने पेश हो जाऊंगा.

दीप सिद्धू ने फेसबुक लाइव के दौरान कहा कि उनके खिलाफ कई तरह की गलत जानकारी फैलाई जा रही है. मैं किसी भी जांच से डरता नहीं हूं. जब मैंने कुछ गलत नहीं किया है तो मुझे किसी से भी भागने की जरूरत नहीं है. सिद्धू ने कहा, मुझे कुछ बातों की सच्‍चाई का पता लगाने के लिए थोड़ा समय चाहिए. मैं जल्‍द ही जांच एजेंसी के सामने पूरे तथ्‍यों के साथ पेश हो जाऊंगा. सिद्धू ने कहा कि मैंने कुछ गलत नहीं किया है इसलिए मैं जांच से भी नहीं भागूंगा.

इससे पहले खुद को गद्दार कहे जाने से नाराज सिद्धू ने किसान नेताओं को धमकी देते हुए कहा था कि अगर उन्‍होंने अपना मुंह खोला और किसान आंदोलन की अंदर की बातें खोलनी शुरू कीं तो इन नेताओं को भागने का रास्‍ता भी नहीं मिलेगा. दीप सिद्धू ने कहा कि मेरी बात को डायलॉग न समझें , ये बात याद रखना, मेरे पास हर बात की दलील है. मानसिकता बदलो.
इसे भी पढ़ें :- दीप सिद्धू ने किसान नेताओं को दी चेतावनी, मैं बोलूंगा तो भागने का रास्‍ता नहीं मिलेगा



फेसबुक पर लाइव होकर दीप सिद्धू ने कहा कि दिल्‍ली में ट्रैक्‍टर रैली के दौरान भड़की हिंसा के बाद मेरे खिलाफ कई बातें कहीं जा रही हैं. ऐसे में वक्त आ गया है कि कुछ बातें स्पष्ट कर दी जाएं. दीप ने कहा कि युवाओं को दिल्‍ली में ट्रैक्‍टर मार्च की बात कहकर बुलाया गया था. इस दौरान किसान नेताओं ने दिल्‍ली में तय रूट पर परेड करने की भी बात कही थी. इस पर जब युवाओं ने नाराजगी जताई तो किसान नेता वहां से किनारा कर गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज