होम /न्यूज /राष्ट्र /

दीप सिद्धू ने फेसबुक लाइव पर किसान नेताओं को दी चेतावनी, मैं बोलूंगा तो भागने का रास्‍ता नहीं मिलेगा

दीप सिद्धू ने फेसबुक लाइव पर किसान नेताओं को दी चेतावनी, मैं बोलूंगा तो भागने का रास्‍ता नहीं मिलेगा

दीप सिद्धू ने फेसबुक लाइव के जरिए सनी देओल पर धोखा देने का आरोप लगाया.

दीप सिद्धू ने फेसबुक लाइव के जरिए सनी देओल पर धोखा देने का आरोप लगाया.

फेसबुक पर लाइव (Facebook Live) होकर दीप सिद्धू (Deep Sidhu) ने कहा कि दिल्‍ली में ट्रैक्‍टर रैली (Tractor Rally) के दौरान भड़की हिंसा के बाद मेरे खिलाफ कई बातें कहीं जा रही हैं. ऐसे में वक्त आ गया है कि कुछ बातें स्पष्ट कर दी जाएं.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्‍ली. गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन किसानों की ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) में हुई हिंसा और लाल किले पर एक धार्मिक ध्वज लहराए जाने के मुख्य आरोपी दीप सिद्धू (Deep Sidhu) ने फेसबुक लाइव के जरिए किसान नेताओं को खुली चेतावनी दे दी है. खुद को गद्दार कहे जाने से नाराज सिद्धू ने किसान नेताओं को धमकी दी है कि अगर उन्‍होंने अपना मुंह खोला और किसान आंदोलन की अंदर की बातें खोलनी शुरू कीं तो इन नेताओं को भागने का रास्‍ता भी नहीं मिलेगा. दीप सिद्धू ने कहा कि मेरी बात को डायलॉग न समझें , ये बात याद रखना, मेरे पास हर बात की दलील है. मानसिकता बदलो.

    फेसबुक पर लाइव होकर दीप सिद्धू ने कहा कि दिल्‍ली में ट्रैक्‍टर रैली के दौरान भड़की हिंसा के बाद मेरे खिलाफ कई बातें कहीं जा रही हैं. ऐसे में वक्त आ गया है कि कुछ बातें स्पष्ट कर दी जाएं. दीप ने कहा कि युवाओं को दिल्‍ली में ट्रैक्‍टर मार्च की बात कहकर बुलाया गया था. इस दौरान किसान नेताओं ने दिल्‍ली में तय रूट पर परेड करने की भी बात कही थी. इस पर जब युवाओं ने नाराजगी जताई तो किसान नेता वहां से किनारा कर गए.

    दीप सिद्धू ने किसान नेताओं को अहंकारी बताते हुए कहा कि वे सरकार की भाषा बोलते हैं. उन्‍होंने कहा कि किसान नेताओं ने 26 जनवरी को हुई घटना पर अपना एक स्‍टैंड नहीं लिया. दीप ने लाल किले पर झंडा लगाने की बात पर अपना बचाव किया और कहा कि मेरे बाइक से भागने का वीडियो वायरल हो रहा है लेकिन जब तक इसकी पुष्टि न हो, उसे सच न मानें.

    इसे भी पढ़ें :- Republic Day Violence: ट्रैक्टर रैली में हिंसा और लाल किले पर बवाल का आरोपी हो गया दीप सिद्धू गायब?

    दिल्‍ली में हिंसा भड़काने की बात को भी दीप सिद्धू ने पूरी तरह से नकार दिया. उन्‍होंने कहा कि कौन सी हिंसा की गई. हमले लाल किले में किसी भी प्रॉपर्टी को किसी भी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचाया. हम वहां पर शांतिपूर्ण तरीके से रैली करने पहुंचे थे. दिल्ली पुलिस के बारे में सिद्धू ने कहा कि पुलिस ने हमें कहा कि जो करना है, शांतिपूर्वक करो और यहां से जाओ. दीप सिद्धू ने भाजपा, आरएसएस और कांग्रेस से किसी भी तरह के रिश्‍तों को नकार दिया है.

    Tags: Deep Sidhu, Red Fort, Republic day, Tractor Rally

    अगली ख़बर