Home /News /nation /

deepak kesarkar says nitish kumar may reconsider his decision if he feels that he has picked the wrong party mns

ये एक फेज है, कभी भी पलट सकते हैं नीतीश- बिहार में सत्ता परिवर्तन पर बोले शिंदे के मंत्री

महाराष्ट्र के मंत्री दीपक केसरकर ने कहा है कि नया गठबंधन सिर्फ एक फेज है (फोटो- ANI)

महाराष्ट्र के मंत्री दीपक केसरकर ने कहा है कि नया गठबंधन सिर्फ एक फेज है (फोटो- ANI)

Bihar Politics: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि भाजपा को 2020 के विधानसभा चुनाव के बाद अपनी पार्टी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी को मुख्यमंत्री बनाना चाहिए था. भाजपा से नाता तोड़कर मंगलवार को विपक्षी पार्टी राजद के साथ हाथ मिलाने वाले मुख्यमंत्री ने यह टिप्पणी अपने पूर्व उपमुख्यमंत्री द्वारा खुद पर लगाए गए आरोपों का जवाब देते हुए की.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

सुशील मोदी बोले- बिहार की नई सरकार 2025 में अपना कार्यकाल पूरा करने से पहले ही गिर जाएगी
नीतीश कुमार ने कहा कि 2015 में जैसे हमलोग साथ थे, फिर हो गए और बिहार के हित में काम करेंगे
कई नेताओं को लगता है कि नीतीश कभी भी पाला बदल सकते हैं

नई दिल्ली. राजनीतिक गलियारों में इस वक्त हर तरफ सिर्फ और सिर्फ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की चर्चा है. भाजपा से नाता तोड़कर उन्होंने राजद के साथ हाथ मिला लिया. बुधवार को राजभवन में रिकॉर्ड आठवीं बार उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. लेकिन अब भी कई नेताओं को लगता है कि नीतीश कभी भी पाला बदल सकते हैं. दरअसल पिछले पांच साल में उन्होंने दो बार पलटी मार कर राज्य में राजनीतिक भूचाल खड़ा कर दिया है. महाराष्ट्र के मंत्री दीपक केसरकर ने कहा है कि नया गठबंधन सिर्फ एक फेज है और नीतीश कभी भी अपना फैसला पलट सकते हैं.

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए केसरकर ने कहा, ‘ये सिर्फ एक फेज है. मेरा मतलब ये नहीं है कि मैं सीएम नीतीश कुमार की आलोचना कर रहा हूं. वो एक वरिष्ठ राजनेता हैं जिन्होंने मुख्यमंत्री के रूप में राज्य की अच्छी सेवा की है. लेकिन अगर उन्हें लगता है कि उन्होंने गलत पार्टी चुनी है तो वो अपने फैसले पर पुनर्विचार कर सकते हैं. यह अभूतपूर्व नहीं है.’

कार्यकाल पूरा करने से पहले ही गिरेगी सरकार
भारतीय जनता पार्टी के नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा कि बिहार की नई सरकार 2025 में अपना कार्यकाल पूरा करने से पहले ही गिर जाएगी. मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के भारतीय जनता पार्टी से नाता तोड़ने और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेतृत्व वाले महागठबंधन का नेता चुने जाने के एक दिन बाद यह बात कही. मोदी ने यह भी कहा कि जनता दल यूनाइटेड (जदयू) प्रमुख नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को वोट देने वाली बिहार की जनता का अपमान किया है.

क्या बोले नीतीश
हालांकि भाजपा के दावे को खारिज करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि 2015 में जैसे हम लोग साथ थे, फिर हो गए और बिहार के हित में काम करेंगे. जदयू के खिलाफ रची गयी भाजपा की कथित साजिश की ओर इशारा करते हुए नीतीश ने कहा, ‘2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में जदयू के साथ क्या हुआ था. मैं 2020 में मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहता था. आप सभी साक्षी हैं कि तब से क्या हो रहा था. पार्टी के विधायक और उम्मीदवारों से पूछ लें, इस बारे में वे बता देंगे. सभी के लगातार इस बारे में बताने पर अंततः मुझे लगा कि जब सभी की इच्छा है तो उनकी इच्छा का स्वागत करते हुए फिर 2015 की तरह साथ हो गए और अब साथ मिलकर बिहार के हित के लिए काम करेंगे.’ (भाषा इनपुट के साथ)

Tags: Nitish kumar

अगली ख़बर