Aero India 2021: राजनाथ सिंह बोले- रक्षा क्षेत्र में Startups को बढ़ावा देने से मजबूत हुआ भारत

 3 फरवरी से बेंगलुरु में आयोजित हुए एयरो इंडिया शो का आज आखिरी दिन है.

3 फरवरी से बेंगलुरु में आयोजित हुए एयरो इंडिया शो का आज आखिरी दिन है.

रक्षा मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार पूरी तरह से सचेत है कि रक्षा विनिर्माण क्षेत्र (Defence manufacturing sector) में स्टार्टअप्स (startups) को लाने की अति आवश्कता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 5, 2021, 4:17 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में एयरो इंडिया 2021 (Aero India 2021) के तहत आयोजित किए गए स्टार्टअप मैराथन (Startup Manthan) में हिस्सा लिया. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रक्षा मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार पूरी तरह से सचेत है कि रक्षा विनिर्माण क्षेत्र (Defence manufacturing sector) में स्टार्टअप्स (startups) को लाने की अति आवश्कता है. उन्होंने कहा कि इसी लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए निजी उद्योग के साथ साझेदारी करते हुए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं.

राजनाथ सिंह ने कहा, '121 एमओयू, प्रौद्योगिकी का 19 हस्तांतरण, 4 सौंपना, 18 उत्पाद लॉन्च और 32 प्रमुख घोषणाएं संकेत हैं कि एयरो इंडिया 2021 शानदार रूप से सफल रही है. दुनिया भर में COVID-19 बाधाओं के बावजूद, एयरो इंडिया 21 बेहद सफल रहा है.'

एफडीआई को 49 से 74 फीसदी तक बढ़ाया गया

राजनाथ सिंह ने बताया कि दुनिया भर की प्रमुख कंपनियों की साझेदारी को आमंत्रित करने के लिए भारत की रक्षा औद्योगिक का हिस्सा बनने के लिए बड़ी संख्या में पहल की गई हैं. इस लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए अगस्त 2020 में FDI को 49 फीसद से 74 फीसद तक बढ़ाया गया था.
राजनाथ ने रक्षा निर्माण में भारत की आत्मनिर्भरता के महत्व पर चर्चा करते हुए कहा, "भारत की सामरिक स्वायत्तता को बनाए रखने के लिए रक्षा उपकरणों के निर्माण में आत्मनिर्भरता अति आवश्यक है.'' उन्होंने कहा कि iDEX पहल हमारे देश में निर्मित सबसे प्रभावी और अच्छी तरह से क्रियान्वित रक्षा स्टार्ट-अप पारिस्थितिकी प्रणालियों में से एक है. इसके साथ ही उन्होंने कहा, ''रक्षा इंडिया स्टार्टअप चैलेंज DISC में कम से कम इस बार 1200 स्टार्टअप और इनोवेटर्स ने भाग लिया है. इनमें से कम से कम 60 स्टार्टअप DISC चुनौतियों के तहत 30 तकनीकी क्षेत्रों में है.''
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज