राजनाथ सिंह सियाचिन के लिए पहुंचे, सीमाओं पर आतंक के खिलाफ तैयारी का लेंगे जायजा

रक्षा मंत्रालय का प्रभार संभालने के बाद पहली यात्रा में सबसे पहले सियाचिन ग्लेशियर जाएंगे जिसे दुनिया का सबसे खतरनाक युद्धक्षेत्र कहा जाता है

News18Hindi
Updated: June 3, 2019, 11:40 AM IST
राजनाथ सिंह सियाचिन के लिए पहुंचे, सीमाओं पर आतंक के खिलाफ तैयारी का लेंगे जायजा
राजनाथ सिंह (फाइल)
News18Hindi
Updated: June 3, 2019, 11:40 AM IST
रक्षा मंत्री का पद संभालने के बाद राजनाथ सिंह सोमवार को पहली बार सियाचिन ग्लेशियर और श्रीनगर के दौरे पर पहुंचे. यहां वो जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद निरोधक अभियान का जायजा लेने के साथ ही पाकिस्तान से लगी सीमाओं पर सुरक्षा तैयारियों का जायजा लेंगे

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सिंह रक्षा मंत्रालय का प्रभार संभालने के बाद पहली यात्रा में सबसे पहले सियाचिन ग्लेशियर पहुंचे, जिसे दुनिया का सबसे खतरनाक युद्धक्षेत्र कहा जाता है. यहां वो फील्ड कमांडरों और जवानों के साथ बातचीत करेंगे. रक्षा मंत्री के साथ सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत भी हैं.

राजनाथ सिंह सियाचिन से श्रीनगर पहुंते, जहां उत्तरी सैन्य कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह और लेह स्थित 14 कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल वाई के जोशी, उन्हें पाकिस्तान से लगी सीमाओं पर सुरक्षा परिदृश्य के बारे में और आतंकवाद निरोधक अभियानों के बारे में जानकारी देंगे.

सूत्रों के मुताबिक, राजनाथ सिंह सबसे पहले सुबह लद्दाख में थोइस हवाईअड्डे पर पहुंचें, जहां से वो कुमार पोस्ट गए. इसके बाद रक्षा मंत्री सियाचिन ग्लेशियर जाएंगे. वहां वो सेना के फील्ड कमांडरों और सैनिकों के साथ बातचीत करेंगे. सिंह सियाचिन युद्ध स्मारक पर श्रद्धांजलि भी देंगे.

दुनिया का सबसे खतरनाक युद्धक्षेत्र

सियाचिन ग्लेशियर की गिनती दुनिया के सबसे ऊंचे युद्ध क्षेत्र के तौर पर होती है. कोराकोरुम रेंज में स्थित सियाचिन ग्लेशियर दुनिया का सर्वोच्च सैन्य क्षेत्र है, जहां जवानों को अत्यधिक सर्दी और तेज हवाओं का सामना करना पड़ता है.

सर्दियों में ग्लेशियर पर भूस्खलन और हिमस्खलन आम बात है. यहां तापमान शून्य से 60 डिग्री सेल्सियस नीचे तक चला जाता है. 1984 से लेकर अब तक यहां करीब 900 जवान शहीद हो चुके हैं. इनमें से ज्यादातर की शहादत एवलांच और खराब मौसम के कारण हुई. रक्षा मंत्री सोमवार शाम को नयी दिल्ली लौट सकते हैं.
Loading...

ये भी पढ़ें:

आजम खान दे सकते हैं लोकसभा से इस्तीफा, बताई ये वजह

सड़क हादसे में बाल-बाल बचे योगी सरकार के कैबिनेट मंत्री
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 3, 2019, 11:40 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...