गोवा: विदेश से लौटने वालों को भारी परेशानी, एयरपोर्ट पर पैसे देने के बाद भी नहीं मिल रही कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट

गोवा: विदेश से लौटने वालों को भारी परेशानी, एयरपोर्ट पर पैसे देने के बाद भी नहीं मिल रही कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट
एयरपोर्ट पर लोगों को हो रही है परेशानी

Corona Test: इन्हें कोरोना टेस्ट के बाद ही जाने दिया जा रहा है. टेस्ट के लिए इन सबसे 2000 रुपये लिए जा रहे हैं.

  • Share this:
पणजी. मध्य पूर्व देशों से भारत लौटने वाले लोगों को गोवा के एयरपोर्ट (Goa Airport) पर भारी परेशानी हो रही. यात्री शिकायत कर रहे हैं कि उन्हें कोरोना टेस्ट (Corona Test) की रिपोर्ट समय पर  नहीं दी जा रही है, जबकि इन लोगों ने टेस्ट के पैसे पहले ही दे दिए हैं. अंग्रेजी अखबार द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, रिपोर्ट देने में एक-एक हफ्ते की देरी हो रही है. गोवा एयरपोर्ट पर लैंड करने के बाद ज्यादातर यात्री महाराष्ट्र और कर्नाटक लौट रहे हैं, लेकिन इन्हें कोरोना टेस्ट के बाद ही वापस जाने के लिए दिया जा रहा है. टेस्ट के लिए इन सबसे 2000 रुपये लिए जा रहे हैं.

रिपोर्ट आने में देरी
जांच रिपोर्ट में में देरी के कारण लोगों को भारी परेशानी हो रही है. अपने अपार्टमेंट, पुलिस, ग्राम प्रधानों और यहां तक ​​कि डॉक्टरों को दिखाने के लिए इनके पास कोई दस्तावेज नहीं है. उदाहरण के लिए, 10 जुलाई को सऊदी अरब से एक गर्भवती महिला गोवा पहुंची. हवाई अड्डे पर उनके सैंपल लिए गए. इसके बाद उसे लातूर जाने की अनुमति दी गई. उनसे कहा गया कि उन्हें एक-दो दिनों में रिपोर्ट मिल जाएगी. लेकिन ऐसा हुआ नहीं.

7 दिन बाद रिपोर्ट
सात दिनों के बाद भी महिला को कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट का इंतज़ार है. ऐसे में पुलिस और स्थानीय अधिकारी उनके घर पर पहुंच गए. इतना ही नहीं, पांच महीने की गर्भवती ये महिला किसी डॉक्टर से भी नहीं मिल पा रही हैं. आखिरकार गुरुवार को इन्हें अपनी रिपोर्ट मिली.



डॉक्टर की सफाई
हालांकि राज्य के महामारी विशेषज्ञ डॉक्टर उत्कर्ष बेतोडकर ने बताया कि यात्रियों को एक दिन के भीतर रिपोर्ट के बारे में सूचित किया जाता है. उन्होंने कहा कि अगर देरी होती है, तो उन्हें दो दिनों में रिजल्ट के बारे में बता दिया जाता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज