कश्मीर में राहुल गांधी समेत अन्य नेताओं को नहीं मिली एंट्री, कांग्रेस ने पूछा- क्या छिपा रही मोदी सरकार

News18Hindi
Updated: August 24, 2019, 10:38 PM IST
कश्मीर में राहुल गांधी समेत अन्य नेताओं को नहीं मिली एंट्री, कांग्रेस ने पूछा- क्या छिपा रही मोदी सरकार
श्रीनगर से बैरंग लौटते राहुल गांधी और विपक्ष के नेता (ANI)

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के नेतृत्व वाले प्रतिनिधमंडल को वापस लौटाए जाने पर कांग्रेस (Congress) ने ट्वीट किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 24, 2019, 10:38 PM IST
  • Share this:
जम्मू और कश्मीर (Jammu And Kashmir) से अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35ए (Article 370 and Article 35A) हटाए जाने के बाद विपक्षी नेताओं के एक प्रतिनिधमंडल संग पहली बार श्रीनगर पहुंचे कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Congress Leader Rahul Gandhi)को बैरंग वापस लौटना पड़ा.

राहुल गांधी और विपक्षी नेताओं के प्रतिनिधिमंडल ने कश्मीर घाटी में लोगों से मिलने और स्थिति का आकलन करने के लिए शनिवार को श्रीनगर का दौरा करने का प्रयास किया और उन्हें श्रीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से वापस भेज दिया गया. केंद्र द्वारा जम्मू और कश्मीर को विशेष दर्जा वापस लेने के बाद 5 अगस्त से जम्मू-कश्मीर में प्रतिबंध लागू हैं. प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस, CPI-M, CPI, RJD, NCP, TMC और DMK के नेता शामिल थे.

श्रीनगर के लिए उड़ान भरने वाले नेताओं में राहुल गांधी, गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा थे. सीपीआई-एम के सीताराम येचुरी, सीपीआई के डी राजा, डीएमके के तिरुचि शिवा, आरजेडी के मनोज झा और टीएमसी के दिनेश त्रिवेदी भी प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा थे, जो दिल्ली हवाई अड्डे से दोपहर बाद श्रीनगर के लिए रवाना हुए थे.

यह भी पढ़ें :  गहरी सोच और दूरंदेशी के लिए याद आते रहेंगे अरुण जेटली

कांग्रेस ने किया ट्वीट

प्रतिनिधमंडल को वापस लौटाए जाने पर कांग्रेस ने ट्वीट किया. कांग्रेस ने जम्मू-कश्मीर की स्थिति को लेकर कांग्रेस ने केंद्र पर निशाना साधा, पूछा कि अगर जम्मू कश्मीर में स्थिति 'सामान्य' है तो मोदी सरकार क्या छिपाने की कोशिश कर रही है? कांग्रेस के आधिकारिक अकाउंट से ट्वीट किया गया कि 'यदि सरकार के दावे के अनुसार जम्मू-कश्मीर की स्थिति "सामान्य" है, तो श्री राहुल गांधी के नेतृत्व में विपक्षी नेताओं के प्रतिनिधिमंडल को श्रीनगर हवाई अड्डे से वापस क्यों भेजा गया है? मोदी सरकार क्या छिपाने की कोशिश कर रही है?'

कांग्रेस ने ट्वीट किया - श्रीनगर पुलिस द्वारा मीडियाकर्मियों से आक्रामक रूप से पेश आने और उनको विपक्षी नेताओं के प्रतिनिधिमंडल से मिलने से रोकने की खबरें आ रही है. हम मीडिया के खिलाफ अपनाए गए कठोर रवैये की कड़ी निंदा करते हैं.
Loading...

वहीं प्रतिनिधिमंडल को एयरपोर्ट से लौटाने पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि 'राज्यपाल कहते कुछ है और करते कुछ और ही हैं. उन्होंने कहा कि अजीब बात राज्यपाल कश्मीर बुलाते है, विपक्ष कश्मीर के लोगो से मिलकर समस्या का निदान निकालने के जाता, लेकिन एयरपोर्ट से ही  सब को लौटा दिया जाता है. उन्होंने कहा कि यह उम्मीद सत्यपाल मलिक से नही थी, वैसे ऐसे संस्कार उनमें नही रहे, मगर फिर भी उन्होंने ऐसा क्यों किया समझ नही आता.'

यह भी पढ़ें :   जम्मू-कश्मीर को नया बनाने की तैयारी, 14 महीने में परिसीमन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 24, 2019, 11:22 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...