Home /News /nation /

प्रदूषण पर यूपी के बेतुके तर्क पर चीफ जस्टिस ने कहा- ...तो आप पाक में फैक्ट्रियां बंद करवाना चाहते हैं?

प्रदूषण पर यूपी के बेतुके तर्क पर चीफ जस्टिस ने कहा- ...तो आप पाक में फैक्ट्रियां बंद करवाना चाहते हैं?

दिल्ली में प्रदूषण की स्थिति पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हो रही है.

दिल्ली में प्रदूषण की स्थिति पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हो रही है.

Delhi Air Pollution Supreme Court: दिल्ली में खतरनाक हो चुकी प्रदूषण की समस्या पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है. इस मसले पर उत्तर प्रदेश की सरकार ने अपनी दलील पेश की है. राज्य सरकार ने कहा है कि उत्तर प्रदेश की हवा दिल्ली नहीं जाती है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. दिल्ली में प्रदूषण पर सुप्रीम कोर्ट में जारी सुनवाई के दौरान उत्तर प्रदेश सरकार ने एक अजीबो-गरीब तर्क दिया है. यूपी सरकार की तरफ से पेश वकील रंजीत कुमार ने कहा कि उत्तर प्रदेश में पाकिस्तान की तरफ से हवा आती है और पटना की तरफ चली जाती है. यूपी की हवा दिल्ली नहीं जाती है. यूपी सरकार के इस तर्क पर मामले की सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस ने कहा कि तो आप पाकिस्तान में प्रदूषण फैलाने वाले उद्योगों को बंद करवाना चाहते हैं? उन्होंने कहा कि यूपी सरकार के वकील से कहा कि वह प्रदूषण को कम करने के बारे में जानकारी दें प्रकृति को अपना काम करने दें

यूपी सरकार की तरफ से कहा गया कि यह सीजन गन्ने का है. अगर गन्ने की मिल को बंद कर दिया जाएगा तो आने वाले समय में किसानों और चीनी के उत्पादन पर इसका असर पड़ेगा.

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार और NCR को सारे उपायों का पालन करने के निर्देश दिए. सुप्रीम कोर्ट ने मामले को लंबित रख दिया है.

ये भी पढ़ें : यूपी में दिख रहा डबल इंजन सरकार का दम, बनेंगे 2,800 KM लंबे नए हाइवे, 2018 से 60 हजार करोड़ के प्रोजेक्ट्स पर विचार

इस साथ ही शीर्ष अदालत ने दिल्ली सरकार के कोविड अस्पतालों के निर्माण को मंजूरी दी. दस दिसंबर को मामले की अगली सुनवाई होगी.

कोर्ट ने यूपी सरकार से पूछा कि मजदूरों को भुगतान देने को लेकर उन्होंने क्या किया है जब कंट्रक्शन पर बैन था? क्या उन्होंने पैसे दिए? यूपी सरकार एक वकील ने कहा कि वो इसके बारे में अगली सुनवाई में कोर्ट में बताएंगे.

Tags: Delhi pollution, Supreme Court

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर