Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    Air Pollution: दिल्ली-NCR में दिवाली पर पटाखा बैन की निकली हवा, चार साल के सबसे गंभीर स्तर पर AQI

    सफर के मुताबिक दिल्ली का औसत AQI 421 है. शनिवार को यहां प्रदूषण स्तर 'वेरी पुअर' कैटेगरी में 368 था.
    सफर के मुताबिक दिल्ली का औसत AQI 421 है. शनिवार को यहां प्रदूषण स्तर 'वेरी पुअर' कैटेगरी में 368 था.

    Delhi-NCR AQI: दिल्ली का वायु प्रदूषण (Air Pollution) का स्तर गंभीर श्रेणी में 414 तक पहुंच गया. वहीं पिछले साल दिवाली की अगर बात करें तो 27 अक्टूबर को यहां 24 घंटे का औसत AQI 337 रहा था.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 15, 2020, 1:05 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाकों में (Delhi-NCR AQI) पटाखों पर लगा बैन दिवाली (Diwali 2020) के मौक पर बेमानी दिखा, जहां कई लोग पटाखे फोड़ते दिखे. इस कारण दिल्ली का वायु प्रदूषण (Air Pollution) का स्तर गंभीर श्रेणी में 414 तक पहुंच गया. हालांकि रविवार को दोपहर बाद हल्की बारिश हो सकती है, जिस कारण हालात थोड़े सुधरने के अनुमान हैं. वहीं हवा का रुख भी दक्षिण पूर्व की दिशा में मुड़ने का अनुमान है, जिससे पराली जलाने से उठा धुएं के असर से शहर को थोड़ी मिल सकती है.

    दिवाली के मौके पर शहर में वर्ष 2016 के बाद हवा की गुणवत्‍ता (AQI) का यह सबसे खराब स्तर है. वहीं पिछले साल दिवाली की अगर बात करें तो 27 अक्टूबर को यहां 24 घंटे का औसत AQI 337 रहा था. वहीं अगले दो दिन यहां औसतन 368 और 400 के स्तर पर रहा. इस कारण दिवाली के अलगे तीन दिनों तक वायु की गुणवत्ता गंभीर श्रेणी में ही रही.





    वायु प्रदूषण के मामले में पिछले चार वर्षों का रिकॉर्ड देखें तो वर्ष 2018 इस मामले में कम गंभीर रहा था. उस वर्ष दिवाली पर 24 घंटे का औसत AQI 281 पर था. हालांकि अगले दिन यह और बिगड़ गया और एक्यूआई 390 पर जा पहुंचा था. वहीं वर्ष 2017 में दिल्ली का 24 घंटे का औसत AQI 319 पर बना रहा था, जो कि काफी गंभीर स्थिति थी.

    इससे पहले, ‘सफर’ का आकलन था कि यदि दिवाली पर पटाखे नहीं जलाए गए तो दिल्ली की हवा में ‘पीएम 2.5’ कणों की मात्रा पिछले चार साल के मुकाबले सबसे कम रह सकती है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) की ओर से कहा गया है कि इस साल दिवाली के बाद पश्चिमी विक्षोभ के कारण हवा की गति बढ़ने से दिल्ली-एनसीआर में वायु गुणवत्ता में सुधार होने के आसार हैं.

    आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ के कारण रविवार को हल्की बारिश भी हो सकती है. उन्होंने कहा, 'दिवाली के बाद हवा की गति बढ़ने से दिल्ली-एनसीआर में वायु गुणवत्ता में सुधार हो सकता है. रविवार को हवा की अधिकतम गति 12 से 15 किलोमीटर प्रति घंटा रहने की उम्मीद है.'
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज