• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • नया मोटर व्हीकल एक्ट आने के बाद कोर्ट भी सक्रिय, एक दिन में वसूले 17 लाख रुपये

नया मोटर व्हीकल एक्ट आने के बाद कोर्ट भी सक्रिय, एक दिन में वसूले 17 लाख रुपये

चालानों की बढ़ती संख्या को देखते हुए पिछले दिनों दिल्ली की भी सभी जिला अदालतों में लोक अदालत लगाई गईं

पिछले दिनों दिल्ली (Delhi) की सभी जिला अदालतों (District Courts) में लोक अदालतें (Lok Adalat) लगाई गईं. शनिवार (Saturday) को आयोजित इस लोक अदालतों में कुल 8 हजार 846 चालानों और नोटिसों का निपटारा किया गया. इस निपटारे से 16 लाख 96 हजार 285 रुपये वसूले गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में 1 सितंबर 2019 से नया मोटर व्हीकल एक्ट 2019 (New Motor Vehicle Act 2019) लागू हो गया है. इस एक्ट के लागू हो जाने के बाद ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) द्वारा भारी संख्या में चालान (Challan) काटे जा रहे हैं. नतीजा यह हो रहा है कि देश के अलग-अलग हिस्सों में स्पेशल लोक अदालतों (Lok Adalat) का गठन होने लगा है. चालानों की बढ़ती संख्या को देखते हुए पिछले दिनों दिल्ली (Delhi) की भी सभी जिला अदालतों (District Courts) में लोक अदालत लगाई गईं. शनिवार (Saturday) को आयोजित इन लोक अदालतों में कुल 8 हजार 846 चालानों और नोटिसों का निपटारा किया गया. इस निपटारे से 16 लाख 96 हजार 285 रुपये वसूले गए.

मोटर व्हीकल एक्ट, Motor vehicle Act, ट्रैफिक चालान, Traffic Challan, ट्रैफिक पुलिस, Traffic Police, वीडियो रिकॉर्डिंग, video recording, मोबाइल फोन, Mobile Phone, कैमरा, Camera, आरटीआई, RTI, हरियाणा पुलिस, Haryana police, ड्राइविंग लाईसेंस, Driving licence, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, RC, हॉकी, क्रिकेट बैट, विकेट, Hockey, cricket bat, wicket, फरीदाबाद, faridabad, vehicle checking, वाहन चेकिंग
पुलिस से बातचीत की मोबाइल से कर सकते हैं रिकॉर्डिंग (File Photo)


सभी जिला अदालतों में विशेष लोक अदालत का गठन
दिल्ली की सभी जिला अदालतों में यह लोक अदालत सुबह 10 बजे से दोपहर साढ़े तीन बजे तक लगाई गईं. सभी जिला अदालतों में एनबीटी नोटिसों के लिए 22 लोक अदालतें बैठी थीं, जिसमें कुल 8002 नोटिसों का निपटारा किया गया और इससे 6 लाख 77 हजार 835 रुपये वसूले गए. एनबीटी नोटिस चालानों (Notice Branch Traffic challans) के लिए रोहिणी जिला अदालत में 4, द्वारका में 2, साकेत में 6, पटियाला हाउस कोर्ट में 2, तीस हजारी में 5 और कड़कड़डूमा जिला अदालत में 3 लोक अदालतें चलीं.

दिल्ली की सभी जिला अदालतों में यह लोक अदालत सुबह 10 बजे से दोपहर साढ़े तीन बजे तक लगाई गईं
दिल्ली की सभी जिला अदालतों में यह लोक अदालत सुबह 10 बजे से दोपहर साढ़े तीन बजे तक लगाई गईं


वहीं सर्किल चालान के लिए भी रोहिणी कोर्ट में 3, द्वारका कोर्ट में 3, साकेत कोर्ट में 3 पटियाला हाउस कोर्ट में 1, तीस हजारी कोर्ट में 1 और कड़कड़डूमा कोर्ट में 3 लोक अदालतों का गठन किया गया था. सर्किल चालान के लिए 13 सितंबर को लोक अदालत लगाई गई थी. इन 14 लोक अदालतों में 844 मामलों का निपटारा किया गया. इस निपटारे से 10 लाख 18 हजार 450 रुपये की राशि वसूली गई. शुक्रवार को लोक अदालतों में 3 हजार 671 एनबीटी नोटिसों से 2 लाख 95 हजार 595 रुपये और 2 हजार 238 सर्किल चालान से 8 लाख 12 हजार 350 रुपये वसूले गए थे.

traffic police can not do this even if you break the new motor vehicle act rule
आप ट्रैफिक पुलिस के गलत व्यवहार की शिकायत कर सकते हैं


देश में अब तक का सबसे बड़ा चालान ओडिशा (Odisha) में कटा है. संबलपुर में ट्रैफिक नियम तोड़ने पर एक ट्रक के मालिक को 6 लाख 53 हजार 100 रुपये का जुर्माना लगाया गया था. ओडिशा परिवहन विभाग (Odisha Transport Department) ने 7 ट्रैफिक नियमों को तोड़ने के तहत ट्रक मालिक को चालान की रसीद सौंपी थी.

लगभग 17 लाख रुपये कोर्ट में जमा हुएइससे पहले दिल्ली में ही यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर भारी जुर्माना लगाया था. यहां एक ट्रक का 2 लाख रुपये का चालान काट था. राम किशन नाम के ट्रक ड्राइवर को जुर्माने के तौर पर दो लाख पांच सौ रुपये का जुर्माना देना पड़ा. HR 69C7473 हरियाणा नंबर के ट्रक 43 टन रेत भरा हुआ था, जबकि लोडिंग सिर्फ 25 टन की ही परमिटेड है.

ट्रक मालिक राजस्थान के बीकानेर का रहने वाला है
पिछले दिनों दिल्ली में सबसे बड़ा चालान कटा था


बीते दिनों ही दिल्ली (Delhi) की रोहिणी कोर्ट (Rohini Court) में एक और मामला सामने आया था, जहां पर 1 लाख 41 हजार 700 रुपये का चालान (Challan) कटा था. राजस्थान (Rajasthan) के एक ट्रक मालिक ने दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में चालान की पूरी रकम का भुगतान किया था. ट्रक मालिक राजस्थान के बीकानेर का रहने वाला था, जिसका दिल्ली में 5 सितंबर को ओवरलोडिंग होने की वजह से 70 हजार रुपये का चालान काटा गया. वहीं ट्रक में ज्यादा माल लादने पर उसके मालिक पर भी 70 हजार का और चालान किया गया. ट्रक मालिक का कहना है कि इसके अतिरिक्‍त लगभग 1700 रुपये का चालान और किया गया था. चालान की कुल राशि 1 लाख 41 हजार 700 रुपये है. 9 सितंबर को उन्होंने चालान की रकम का भुगतान रोहिणी कोर्ट में कर दिया था.

नए कानून आने के बाद चालानों की संख्या में इजाफा
जब से संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट (Motor vehicle Act) लागू हुआ है, चालान (Challan) की दरें भारी-भरकम हो गई हैं. पुलिस भी पहले के मुकाबले ज्यादा सक्रिय दिख रही है. चौक-चौराहों पर खड़ी होकर जांच कर रही है. तमाम जगहों से पुलिस (Traffic Police) के दुर्व्यवहार की खबरें और वीडियो आ रहे हैं. ऐसे में आपके कुछ अधिकार भी हैं. कोई भी वाहन चालक पुलिसकर्मी के साथ बातचीत के दौरान कैमरा इस्तेमाल कर सकता है. इस पर कोई पाबंदी नहीं है. पुलिसकर्मी को फोन (Mobile Phone) और कैमरा (Camera) आदि छीनने और तोड़ने का अधिकार नहीं है. एक आरटीआई (RTI) के जवाब में हरियाणा (Haryana) पुलिस ने यह जानकारी दी है.

ये भी पढ़ें:

क्या पिछली सीट पर भी बेल्ट नहीं लगाने से कट सकता है चालान, जानिए क्या कहते हैं नियम
ट्रैफिक पुलिस का डंडा पड़ा तो एक हफ्ते में इतने बढ़ गए गाड़ियों के इंश्योरेंस
चेकिंग का वीडियो बनाते वक्त आपके मोबाइल को हाथ भी नहीं लगा सकती ट्रैफिक पुलिस

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज