Home /News /nation /

JNU छात्र उमर खालिद का दावा- 'संसद भवन के पास मुझपर हमला हुआ', पुलिस जांच में जुटी

JNU छात्र उमर खालिद का दावा- 'संसद भवन के पास मुझपर हमला हुआ', पुलिस जांच में जुटी

उमर ख़ालिद

उमर ख़ालिद

उमर खालिद एक कार्यक्रम के सिलसिले में कॉन्‍स्‍टीट्यूशन क्‍लब आ रहे थे. जेएनयू छात्रों अौर कुछ वरिष्‍ठ अधिवक्‍ताओं और सामाजिक कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में यह कार्यक्रम होना था.

    जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के छात्र उमर खालिद ने सोमवार को दावा किया है कि दिल्ली के कॉन्‍स्‍टीट्यूशन क्‍लब के बाहर उनपर हमला हुआ. हालांकि खालिद इस हमले से बाल-बाल बच गए.

    खालिद ने कहा कि घटना के वक्त वह अपने कुछ दोस्तों के साथ क्लब के बाहर चाय पी रहे थे. तभी एक आदमी ने पीछे से आकर उनकी गर्दन पकड़ ली. इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में खालिद ने कहा, "मैंने नोटिस किया कि उसके हाथ में एक गन है तो मैंने उसका हाथ पकड़ने की कोशिश की. मैं डरा हुआ था क्योंकि वह मुझे शूट करने की कोशिश कर रहा था. उसने मुझे धक्का देकर जमीन पर गिरा दिया. इसके बाद उसने मुझे मारा. जब मेरे दोस्तों ने उसे भगाने की कोशिश की तो वह गन फेंककर भाग गया. मैंने दूर से गोली चलने की आवाज सुनी. जाहिर है उस गन से गोली चलाई गई थी.”

    इस पर दिल्ली पुलिस के डीसीपी मधुर वर्मा ने कहा कि खालिद के दावों की जांच की जा रही है.

    उमर खालिद 'ख़ौफ से आज़ादी' नाम के एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए कॉन्स्टीट्यूशन क्लब आए थे. जेएनयू छात्रों अौर कुछ वरिष्‍ठ अधिवक्‍ताओं और सामाजिक कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में यह कार्यक्रम होना था. हालांकि कार्यक्रम से पहले ही उमर पर किसी ने फायर कर दिया. माैके से पिस्‍टल बरामद कर ली गई है. हालांकि गोली चलाने के बाद हमलावर फरार हो गया.

    खालिद पर पीछे से हुआ हमला- ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर
    दिल्ली के ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर अजय चौधरी ने इस घटना की जानकारी देते हुए बताया, 'उमर खालिद अपने दोस्तों के साथ एक स्टॉल पर चाय पी रहा था. तभी एक शख्स ने खालिद पर पीछे से हमला किया, जिससे वह नीचे गिर गया. वह सुरक्षित हैं. हम मामले की तफ्तीश कर रहे हैं.' उन्होंने बताया कि पुलिस को इस कार्यक्रम की सूचना नहीं दी गई थी.

    उमर का बैलेंस बिगड़ा और वह गिर गए- चश्मदीद
    एक चश्मदीद ने एएनआई को बताया, "एक इवेंट में उमर हमारे साथ थे. हम चाय की दुकान पर खड़े थे, तभी सफेद शर्ट पहने एक शख्स वहां आया और उसने उमर पर फायरिंग की. खालिद का बैलेंस बिगड़ गया और वो नीचे गिए गए. उन्हें गोली नहीं लगी. हमने हमलावर को पकड़ने की कोशिश की लेकिन उसने हवाई फायरिंग की और फरार हो गया. इस दौरान उसकी पिस्टल वहीं गिर गई.



    क्या था कार्यक्रम
    कार्यक्रम के इन्वीटेशन के मुताबिक, सोमवार 2.30 बजे कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में 'ख़ौफ से आज़ादी' कार्यक्रम आयोजित किया गया था. इसमें प्रशांत भूषण (सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील), मनोज झा (सांसद), प्रोफेसर अपूर्वानंद (दिल्ली यूनिवर्सिटी), अली अनवर (पूर्व सांसद), फातिमा नफीस (नज़ीब अहमद की मां), राधिका वेमुला (रोहित वेमुला की मां), फातिमा (जुनैद की मां), फातिमा (अलीमूद्दीन की पत्नी), समयदीन (हापुड़ लिंचिग मामले का पीड़ित), यशपाल सक्सेना (अंकित सक्सेना के पिता) और डॉक्टर कफील ख़ान (बीआरडीएम गोरखपुर के सस्पेंडेड डॉक्टर) को बुलाया गया था.

    Tags: Jnu

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर