लाइव टीवी

दिल्ली चुनाव: 'बग्गा, बग्गा हर जगह'... BJP का टिकट मिलने के बाद तेजिंदर ने ऐसे किया शुक्रिया

News18Hindi
Updated: January 21, 2020, 12:27 PM IST
दिल्ली चुनाव: 'बग्गा, बग्गा हर जगह'... BJP का टिकट मिलने के बाद तेजिंदर ने ऐसे किया शुक्रिया
बग्गा दिल्ली के हरिनगर विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार हैं. (फाइल फोटो)

दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Elections 2020) के लिए हरि नगर से बीजेपी प्रत्याशी के तौर पर नाम का ऐलान होने के बाद तेजिंदर पाल सिंह बग्गा (Tajinder Pal Singh Bagga) ने अपने अंदाज में सबका शुक्रिया अदा किया है. बग्गा ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर 'बग्गा, बग्गा हर जगह' रैप सॉन्ग शेयर किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 21, 2020, 12:27 PM IST
  • Share this:
(दिव्या कपूर)

नई दिल्ली. दिल्ली की 70 सीटों पर 8 फरवरी को विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Elections 2020) होने हैं. भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने सोमवार देर रात उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट जारी की, जिसमें पार्टी प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा (Tajinder Pal Singh Bagga) का नाम भी शामिल है. बीजेपी के ट्विटर स्टार बग्गा को हरि नगर से टिकट दिया गया है.

इससे पहले शुक्रवार को जारी बीजेपी की पहली लिस्ट में तेजिंदर सिंह बग्गा का नाम नहीं होने पर उन्हें सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल किया गया था. बग्गा को उम्मीद थी कि उन्हें तिलक नगर से टिकट दिया जाएगा. हालांकि पार्टी ने उन्हें हरि नगर से उम्मीदवार बनाया है. हरि नगर से बीजेपी प्रत्याशी के तौर पर नाम का ऐलान होने के बाद बग्गा ने अपने अंदाज में सबका शुक्रिया अदा किया है.

बग्गा ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर 'बग्गा, बग्गा हर जगह' रैप सॉन्ग शेयर किया है. इस गाने के जरिए उन्होंने सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों पर अपने संघर्ष को दिखाने की कोशिश की.

बीजेपी के ट्विटर स्टार हैं बग्गा
बग्गा को बीजेपी का ट्विटर स्टार कहा जाता है. माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर उनके 6.4 लाख फॉलोअर्स हैं. साल 2017 में उन्हें बीजेपी का प्रवक्ता बनाया गया था. उन्होंने भगत सिंह क्रांति सेना (BSKS) से अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की थी.

प्रशांत भूषण की पिटाई से सुर्खियों में आए
पहली बार बग्गा अक्टूबर 2011 में सुर्खियों में आए थे. कश्मीर पर कट्टर बयान के कारण बग्गा ने आम आदमी पार्टी में रहे वकील प्रशांत भूषण की पिटाई कर दी थी. आरोप है कि बग्गा प्रशांत भूषण को सुप्रीम कोर्ट चेंबर से जबरन बाहर खींच लाए थे. उनके साथ मारपीट और बदसलूकी की थी.

सोशल मीडिया पर बग्गा ने इस घटना की जिम्मेदारी भी ली थी. उन्होंने प्रशांत भूषण की फोटो शेयर करते हुए ट्वीट किया था, 'ऑपरेशन प्रशांत भूषण. ये मेरे राष्ट्र को तोड़ने की कोशिश कर रहे थे. मैंने इनका सिर तोड़ दिया. हिसाब चुकता. सभी को शुभकामनाएं. ऑपरेशन प्रशांत भूषण कामयाब रहा.' तेजिंदर पाल सिंह बग्गा पर लेखिका अरुंधति रॉय के साथ बदसलूकी के आरोप भी लग चुके हैं.

समर्थकों ने पाक उच्चायोग की दीवार पर चिपकाए थे बलूचिस्तान की आजादी के पोस्टर
बग्गा की तरह उनके समर्थक उत्तेजित रहते हैं. आरोप है कि साल 2012 में बग्गा के समर्थकों ने पाकिस्तान उच्चायोग की दीवार पर आपत्तिजनक पोस्टर लगवाए थे, जिनमें बलूचिस्तान की आजादी की मांग की गई थी.

आरोप है कि तेजिंदर सिंह बग्गा के समर्थकों ने स्वामी अग्निवेश के एक दावे पर उन्हें जबरन यूरिन पिलाई थी. यही नहीं, बग्गा और उनके सहयोगियों पर कश्मीर के अलगाववादी नेता सयैद अली शाह गिलानी की पिटाई के आरोप भी लग चुके हैं.


इन कारनामों से मीडिया और सोशल मीडिया पर सुर्खियों में आए तेजिंदर पाल सिंह बग्गा बीजेपी से जुड़े और साल 2017 में उन्हें पार्टी का प्रवक्ता बना दिया गया. माना जाता है कि बीजेपी ने बग्गा को ये जिम्मेदारी देकर युवाओं और खासकर सिखों को आकर्षित करने की कोशिश की थी.

ये भी पढ़ें:- दिल्ली चुनाव: जानिए कौन हैं सीएम केजरीवाल को चुनौती देने वाले बीजेपी के सुनील यादव?

अकाली दल नहीं लड़ेगी दिल्ली विधानसभा चुनाव, CAA-NRC पर नहीं बदलेगा पार्टी का रुख

 


News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 21, 2020, 10:01 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर