लाइव टीवी

ठंड से अभी पूरी राहत नहीं, जनवरी में हाड़ कंपाने वाली ठंड की है भविष्यवाणी

News18Hindi
Updated: January 2, 2020, 11:15 PM IST
ठंड से अभी पूरी राहत नहीं, जनवरी में हाड़ कंपाने वाली ठंड की है भविष्यवाणी
मौसम विभाग ने जनवरी में फिर से कड़ाके की ठंड पड़ने की भविष्यवाणी की है.

हिमालय क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) का दौर खत्म होने के बाद छह से आठ जनवरी तक एक बार फिर तापमान में गिरावट (Low Temperature) के कारण सर्दी (Cold) बढ़ने की संभावना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2020, 11:15 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. 119 साल का रिकॉर्ड (Record) तोड़ने के बाद, दिल्ली (Delhi) में सबसे खराब मौसम अभी भी आना बाकी है. मौसम (Weather) के जानकारों के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) का असर जनवरी भर भी जारी रहेगा. इस दौरान रविवार तक कुछ समय के विराम के बाद बारिश और हिमपात (Rain and Snowfall) 6 जनवरी से फिर शुरू होगा और 8 जनवरी तक चलेगा.

उत्तर क्षेत्रीय पूर्वानुमान इकाई के प्रमुख वैज्ञानिक डा. कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि हिमालय क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) का दौर खत्म होने के बाद छह से आठ जनवरी तक एक बार फिर तापमान में गिरावट के कारण सर्दी (Cold) बढ़ने की संभावना है. सात जनवरी को जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में तेज बारिश और पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में हल्की बारिश होने की संभावना है.

पिछले कुछ दिनों में उत्तर भारतीय राज्यों को मिली है राहत
दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश सहित उत्तर के मैदानी इलाकों में पिछले एक पखवाड़े (Fortnight) से कड़ाके की ठंड से गुरुवार को पूर्वी हवाओं के जोर पकड़ने के कारण राहत मिली है, वहीं मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और उत्तराखंड में हल्की बारिश के कारण ठिठुरन भरी सर्दी का दौर बरकरार है.



मौसम विभाग की पूर्वानुमान इकाई के अनुसार उत्तर प्रदेश और पूर्वी राजस्थान के अधिकांश इलाकों तथा हरियाणा, दिल्ली, पंजाब और पश्चिमी मध्य प्रदेश के कुछ इलाकों में पिछले 24 घंटों के दौरान तापमान (Temperature) में तीन से चार डिग्री सेल्सियस तक की बढ़ोतरी दर्ज की गयी है.

चार और पांच जनवरी को दिल्ली और आसपास के इलाकों में हो सकता है घना कोहरा
गुरुवार को शाम साढ़े पांच बजे उत्तरी राज्यों के औेसत तापमान (Average Temperature) के आधार पर विभाग ने बताया कि उत्तर के मैदानी इलाकों में पिछले 24 घंटों में औसत तापमान दो से चार डिग्री सेल्सियस तक बढ़ा है. पिछले तीन दिन से यह 10 से 12 डिग्री सेल्सियस पर बरकरार था, गुरुवार को यह 20 से 24 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया.

विभाग ने इसके आधार पर उत्तरी राज्यों में शीत दिवस (Cold Day) की स्थिति अब नहीं होने की जानकारी दी है. उत्तर क्षेत्रीय पूर्वानुमान इकाई के प्रमुख वैज्ञानिक डा. कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि दिल्ली में अधिकतम तापमान सफदरजंग में 23 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, यह सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस अधिक था. वहीं, पंजाब में अमृतसर और राजस्थान में कोटा और जैसलमेर, हरियाणा में रोहतक, उत्तर प्रदेश में झांसी तथा बिहार में पटना, गया और भागलपुर को छोड़कर अन्य प्रमुख शहरों में दिन के तापमान में इजाफा दर्ज किया गया.

डा. श्रीवास्तव ने अगले दो दिनों तक उत्तर के मैदानी इलाकों (Plains) में मौसम की स्थिति यथावत रहने का पूर्वानुमान व्यक्त करते हुये बताया कि चार और पांच जनवरी को दिल्ली और आसपास के इलाकों में सुबह घना कोहरा रहने का अनुमान है. (भाषा के इनपुट सहित)

यह भी पढ़ें: फिर उड़ान भर सकती है जेट एयरवेज, इन तीन कंपनियों ने खरीदने में दिखाई दिलचस्पी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 2, 2020, 10:43 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर