कोरोनाः केजरीवाल की सिंगापुर से उड़ानें रद्द करने की मांग, केंद्रीय मंत्री ने दिया जवाब

केजरीवाल के ट्वीट के जवाब में केंद्रीय शहरी विकास और नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट कर केंद्र सरकार का पक्ष रखा. फाइल फोटो

केजरीवाल के ट्वीट के जवाब में केंद्रीय शहरी विकास और नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट कर केंद्र सरकार का पक्ष रखा. फाइल फोटो

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि केंद्र सरकार से मेरी अपील है कि सिंगापुर के साथ हवाई सेवाएं तत्काल प्रभाव से रद्द हों. केजरीवाल के ट्वीट के जवाब में केंद्रीय शहरी विकास और नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट कर केंद्र सरकार का पक्ष रखा.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को केंद्र सरकार से अनुरोध किया कि सिंगापुर के साथ समस्त हवाई सेवाओं को तत्काल रद्द किया जाए क्योंकि वहां सामने आया कोरोना वायरस का एक नया स्वरूप बच्चों के लिए ‘‘बहुत खतरनाक’’ बताया जा रहा है. केजरीवाल ने ट्वीट में आशंका जताई कि वायरस का यह नया स्वरूप तीसरी लहर के रूप में भारत में दस्तक दे सकता है. उन्होंने हिंदी में ट्वीट किया, ‘‘सिंगापुर में आया कोरोना का नया रूप बच्चों के लिए बेहद खतरनाक बताया जा रहा है. भारत में यह तीसरी लहर के रूप में आ सकता है. केंद्र सरकार से मेरी अपील है कि सिंगापुर के साथ हवाई सेवाएं तत्काल प्रभाव से रद्द हों. बच्चों के लिए भी टीके के विकल्पों पर प्राथमिकता के आधार पर काम हो.’’

ऐसा प्रतीत होता है कि केजरीवाल ने मीडिया की एक रिपोर्ट का जिक्र करते हुए यह ट्वीट किया. रिपोर्ट में सोमवार को कहा गया था कि सिंगापुर के बच्चों को वायरस के जिस स्वरूप का खतरा सामने आया है, वह सबसे पहले भारत में पाया गया था. नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ वी के पॉल ने इस मीडिया रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया देते हुए मंगलवार को कहा, ‘‘हम इसकी समीक्षा कर रहे हैं.’’

केजरीवाल के ट्वीट के जवाब में केंद्रीय शहरी विकास और नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट कर केंद्र सरकार का पक्ष रखा. पुरी ने लिखा, "केजरीवाल जी, मार्च 2020 से ही अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें बंद हैं. सिंगापुर के साथ एयर बबल भी नहीं है. बस कुछ वन्दे भारत उड़ानों से हम वहाँ फँसे भारतीय लोगों को वापस लाते हैं. ये हमारे अपने ही लोग हैं. फिर भी स्थिति पर हमारी नज़र है. सभी सावधानियाँ बरती जा रही हैं."

इस महीने की शुरुआत में मुख्यमंत्री ने कहा था कि दिल्ली को कोविड-19 की तीसरी लहर के लिए तैयार रहना चाहिए. दिल्ली में मंगलवार को पांच अप्रैल के बाद पहली बार कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे कम 4,482 मामले सामने आए और 265 और रोगियों की मौत हो गई, जबकि संक्रमण दर 6.89 प्रतिशत है. दिल्ली में सोमवार को संक्रमण के 4,524 मामले सामने आए थे और 340 रोगियों की मौत हुई थी. सोमवार को संक्रमण की दर 8.42 प्रतिशत थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज