• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • महाराष्ट्र के रास्ते पर आगे बढ़ रही दिल्ली? 2 महीने बाद फिर तेजी से बढ़ रहे कोरोना केस

महाराष्ट्र के रास्ते पर आगे बढ़ रही दिल्ली? 2 महीने बाद फिर तेजी से बढ़ रहे कोरोना केस

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच देश में वैक्सीनेशन की रफ्तार में भी तेजी लाई गई है. (तस्वीर-AP)

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच देश में वैक्सीनेशन की रफ्तार में भी तेजी लाई गई है. (तस्वीर-AP)

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक दिल्ली (Delhi) में नए मामलों की संख्या 0.59 प्रतिशत बढ़ी है. बुधवार को 370 और मंगलवार को 320 के सामने आए थे. यानी हर एक दिन नए मामलों की संख्या बढ़ रही है. इससे पहले फरवरी महीने में कोरोना मामलों की संख्या में कमी आई थी. लेकिन अब एक हफ्ते के भीतर फिर से कोरोना सिर उठाने लगा है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. देश में इस वक्त कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र (Maharashtra) है. लेकिन राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) में भी एक बार फिर तेजी से नए मामलों की संख्या में बढ़ोतरी सामने आ रही है. गुरुवार को राजधानी में 409 केस सामने आए हैं जो बीती 9 जनवरी के बाद सबसे ज्यादा हैं. ऐसे में अब एक्सपर्ट्स ये संदेह भी जाहिर कर रहे हैं कि बढ़ते मामले देश में कोरोना की दूसरी लहर यानी सेकंड वेव भी हो सकते हैं.

    स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक दिल्ली में नए मामलों की संख्या 0.59 प्रतिशत बढ़ी है. बुधवार को 370 और मंगलवार को 320 के सामने आए थे. यानी हर एक दिन नए मामलों की संख्या बढ़ रही है. इससे पहले फरवरी महीने में कोरोना मामलों की संख्या में कमी आई थी. लेकिन अब एक हफ्ते के भीतर फिर से कोरोना सिर उठाने लगा है.



    'सबकुछ ठीक हो चुका है' वाला एटिट्यूड
    इस वक्त दिल्ली में एक्टिव केस की संख्या 2020 हो चुकी है. अगर सभी कोरोना मामलों की बात करें तो अब तक आंकड़ा 6,42,439 तक पहुंच चुका है. एक्सपर्ट्स का मानना है कि नए मामले इसलिए बढ़ रहे हैं क्योंकि लोग कोरोना नियमों का सख्ती से पालन नहीं कर रहे हैं. अब लोग यह मानकर चल रहे हैं कि 'सबकुछ ठीक हो चुका है'. एक्सपर्ट्स का मानना है कि ये सोच महंगी पड़ सकती है.

    लोगों ने कोरोना नियमों को हल्के में लेना शुरू कर दिया
    इससे पहले मुंबई में बढ़ते मामलों के लिए भी कहा जा चुका है कि लोगों ने कोरोना नियमों को हल्के में लेना शुरू कर दिया है. यही कारण है कि महाराष्ट्र और राजधानी मुंबई में कोरोना के केस अब बेकाबू होते दिख रहे हैं. अगर दिल्ली में सख्ती के साथ नियमों का पालन नहीं करवाया गया तो एक बार फिर स्थिति चिंताजनक हो सकती है.

    टेस्टिंग में कमी भी एक कारण!
    एक्सपर्ट्स ने टेस्टिंग में आई कमी को भी बढ़ते मामलों का जिम्मेदार माना है. यह भी आशंका जाहिर की गई है कि दिल्ली की वर्तमान हालत मुंबई के रास्ते पर जा सकती है. बुधवार को दिल्ली में कुल 69,810 टेस्ट किए गए जिनमें RT-PCR टेस्ट की संख्या 42,187 है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज