Home /News /nation /

delhi coronavirus r value cross 2 shows iit study

दिल्ली की कोरोना R Value 2 के पार, IIT मद्रास की स्टडी में खुलासा; जानिए क्या है इसका मतलब

दिल्ली में शुक्रवार को 1042 नए कोविड मामले दर्ज किए गए. (फाइल फोटो)

दिल्ली में शुक्रवार को 1042 नए कोविड मामले दर्ज किए गए. (फाइल फोटो)

Delhi Coronavirus News: दिल्ली में कोविड-19 के मामलों की संख्या में वृद्धि देखी जा रही है. शहर में शुक्रवार को 4.64 प्रतिशत संक्रमण दर के साथ 1,042 नए कोविड मामले दर्ज किए. अप्रैल के पहले पखवाड़े में दिल्ली से लिए गए अधिकांश नमूनों में ओमिक्रॉन के उपप्रकार बीए.2.12 का पता चला है

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मद्रास द्वारा किए गए एक विश्लेषण के अनुसार दिल्ली का ”आर-मूल्य”, जो कोविड-19 के प्रसार का संकेत देता है, इस सप्ताह 2.1 दर्ज किया गया. इसका अर्थ है कि राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना वायरस से संक्रमित प्रत्येक व्यक्ति दो अन्य लोगों को संक्रमित कर रहा है. ”आर” यानी प्रजनन मूल्य इंगित करता है कि एक संक्रमित व्यक्ति अन्य कितने व्यक्तियों को संक्रमित कर सकता है. यदि यह एक से नीचे चला जाता है तो इसे महामारी की समाप्ति मान लिया जाता है. कम्प्यूटेशनल मॉडलिंग द्वारा प्रारंभिक विश्लेषण आईआईटी-मद्रास के गणित विभाग और सेंटर ऑफ एक्सीलेंस फॉर कम्प्यूटेशनल मैथमेटिक्स एंड डेटा साइंस द्वारा किया गया था, जिसकी अध्यक्षता प्रोफेसर नीलेश एस उपाध्याय और प्रोफेसर एस सुंदर ने की थी.

‘पीटीआई-भाषा’ को दी गई जानकारी के अनुसार इस सप्ताह दिल्ली का ”आर-मूल्य” 2.1 दर्ज किया गया था. विश्लेषण में पाया गया कि वर्तमान में भारत का ”आर-मूल्य” 1.3 है. यह पूछे जाने पर कि क्या यह अनुमान लगाया जा सकता है कि यह दिल्ली में कोविड-19 की संभावित चौथी लहर की शुरुआत है. इस पर आईआईटी-मद्रास के गणित विभाग के सहायक प्रोफेसर डॉ जयंत झा ने कहा कि एक और लहर की शुरुआत की घोषणा करना जल्दबाजी होगी.

कोरोना के मामले बढ़ते ही दिल्‍ली मेट्रो में सख्‍ती, यात्रियों के लिए एडवाइजरी जारी

उन्होंने बताया कि ”हम अभी केवल यह कह सकते हैं कि प्रत्येक व्यक्ति दो अन्य लोगों को प्रभावित कर रहा है. लेकिन हमें लहर की शुरुआत की घोषणा करने के लिए थोड़ा इंतजार करने की आवश्यकता है. हम अभी लोगों की रोग प्रतिरक्षा की स्थिति के बारे में नहीं जानते हैं और ये भी नहीं जानते हैं कि जो लोग जनवरी में तीसरी लहर के दौरान प्रभावित हुए हैं, वे फिर से प्रभावित हो रहे हैं या नहीं.”

22 अप्रैल को दिल्ली में कोरोना के 1042 नए केस
गौरतलब है कि दिल्ली में कोविड-19 के मामलों की संख्या में वृद्धि देखी जा रही है. शहर में शुक्रवार को 4.64 प्रतिशत संक्रमण दर के साथ 1,042 नए कोविड मामले दर्ज किए. सूत्रों ने बृहस्पतिवार को बताया था कि अप्रैल के पहले पखवाड़े में दिल्ली से लिए गए अधिकांश नमूनों में ओमिक्रॉन के उपप्रकार बीए.2.12 का पता चला है और यह शहर में कोविड​​​​-19 के मामलों में हालिया उछाल के पीछे का कारण हो सकता है. एक आधिकारिक सूत्र ने कहा कि ”नये उप-प्रकार बीए.2.12 (52 प्रतिशत नमूने) और बीए.2.10 (11 प्रतिशत नमूने) उच्च संचरण दिखा रहे हैं और हाल ही में दिल्ली से अनुक्रमित कुल नमूनों में से 60 प्रतिशत से अधिक में पाए गए हैं.”

आर वैल्यू से संकेत मिलता है कि कोविड-19 महामारी कितनी तेजी से फैल रही है…. रिप्रोडक्शन संख्या या आर वैल्यू इंगित करती है कि एक संक्रमित व्यक्ति औसतन और कितने लोगों को संक्रमित कर रहा है. दूसरे शब्दों में कहा जाए तो यह बताता है कि वायरस कितने प्रभावी तरीके से बढ़ रहा है. आर वैल्यू अगर एक से नीचे होती है तो अभिप्राय है कि संक्रमण धीरे-धीरे फैल रहा है, जबकि एक से अधिक होने का अभिप्राय है कि प्रत्येक संक्रमित संक्रमण फैला रहा है और इसे महामारी का चरण कहा जाता है.

Tags: Coronavirus, Coronavirus news, Delhi

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर