एयरसेल मैक्सिस मामले में चिदंबरम पिता-पुत्र को राहत, 3 सितंबर को अदालत देगी फैसला; एजेंसियों को पड़ी फटकार

News18Hindi
Updated: August 23, 2019, 5:04 PM IST
एयरसेल मैक्सिस मामले में चिदंबरम पिता-पुत्र को राहत, 3 सितंबर को अदालत देगी फैसला; एजेंसियों को पड़ी फटकार
(PTI Photo/R Senthil Kumar)

Aircel-Maxis Case में अदालत ने कहा, ‘मामले को स्थगित करने के एजेंसियों के आवेदन में मुझे कोई विशेषता नहीं दिख रही है.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 23, 2019, 5:04 PM IST
  • Share this:
दिल्ली की एक अदालत ने सीबीआई और ईडी (CBI and ED) की याचिका पर शुक्रवार को पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम(Former Finance Minister P. Chidambaram and his son Karti Chidambaram) के खिलाफ एयरसेल- मैक्सिस मामले (Aircel-Maxis Case) को स्थगित करने से इंकार कर दिया.

एजेंसियों ने आईएनएक्स मीडिया मामले (INX Media Case) की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में लंबित होने का हवाला देते हुए स्थगन की मांग की थी.

विशेष न्यायाधीश ओ. पी. सैनी ने लगातार स्थगन की मांग कर रही एजेंसियों को फटकार लगाते हुए कहा, ‘मेरे लिए चीजें काफी अजीबोगरीब हो गई हैं.’ इसके बाद अदालत ने चिदंबरम की जमानत याचिका पर आदेश तीन सितम्बर तक के लिए सुरक्षित रख लिया और तब तक के लिए गिरफ्तारी से अंतरिम राहत दे दी.

बहरहाल, अदालत ने सीबीआई और ईडी को उस तारीख से पहले कभी भी जिरह की छूट दे दी. अदालत ने कहा, ‘मामले को स्थगित करने के एजेंसियों के आवेदन में मुझे कोई विशेषता नहीं दिख रही है. आप (सीबीआई, ईडी) रोजाना स्थगन क्यों चाहते हैं? आप इस तरह के तर्क एक वर्ष से दे रहे हैं.’

इसने कहा, ‘चीजें मेरे लिए काफी अजीबोगरीब हो गई हैं. आप रोजाना स्थगन मांग रहे हैं. तीन सितम्बर को आदेश पारित किया जाएगा. उससे पहले वे जिरह कर सकते हैं.’कहा कि दोनों मामले -- एयरसेल मैक्सिस और आईएनएक्स मीडिया अलग-अलग हैं.

यह भी पढ़ें:  रिमांड खत्म होने पर क्या तिहाड़ जाएंगे चिदंबरम?

क्या है एयरसेल मैक्सिस मामला- 
Loading...

एयरसेल-मैक्सिस सौदा 2जी स्पेक्ट्रम आबंटन से जुड़ा था और आईएनएक्स मीडिया मामले से मिलता-जुलता था. केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने आईएनएक्स मीडिया मामले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को गिरफ्तार किया है.

आधिकारिक रिकार्ड के अनुसार प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) एयरसेल-मैक्सिस मामले में एडवांटेज स्ट्रैटजिक कंसल्टिंग प्राइवेट लि. (एएससीपीएल) नाम की कंपनी की भूमिका की जांच कर रहा था. उसी समय इस कंपनी का नाम वित्त मंत्रालय द्वारा मंजूरी प्राप्त इसी प्रकार के एक अन्य सौदे में भी सामने आया. इस कंपनी के बारे में जांचकर्ताओं का दावा है कि इसका नियंत्रण अप्रत्यक्ष रूप से पी चिदंबरम के बेटे कार्ती चिदंबरम के पास है.

हालांकि कार्ती चिदंबरम ने हमेशा एएससीपीएल में किसी प्रकार के नियंत्रण से इनकार किया है. आईएनएक्स मीडिया और एयरसेल मैक्सिस सौदा दोनों मामलों में कथित भ्रष्टाचार और मनी लांड्रिंग जांच ईडी और सीबीआई कर रही है.

भाषा इनपुट के साथ

यह भी पढ़ें:  क्या राइट टू साइलेंस के जरिए CBI से बच सकते हैं चिंदबरम?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 23, 2019, 4:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...