• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • दिल्लीः लालकिला हिंसा के मास्टरमाइंड दीप सिद्धू की हो सकती है गिरफ्तारी, दिल्ली पुलिस की टीम पंजाब रवाना

दिल्लीः लालकिला हिंसा के मास्टरमाइंड दीप सिद्धू की हो सकती है गिरफ्तारी, दिल्ली पुलिस की टीम पंजाब रवाना

लाल किले पर धार्मिक झंडा लगाने के आरोप में सिद्धू के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. (फोटो साभारः News18 English)

लाल किले पर धार्मिक झंडा लगाने के आरोप में सिद्धू के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. (फोटो साभारः News18 English)

Delhi violence: गणतंत्र दिवस पर राजधानी में हिंसा और लाल किले की घटना के संबंध में एक प्राथमिकी में पंजाबी अभिनेता दीप सिद्धू (Deep Sidhu) और गैंगस्टर से सामाजिक कार्यकर्ता बने लक्खा सिधाना (Lakha Sidhana) का नाम दिल्ली पुलिस ने दर्ज किया है.

  • Share this:

    नई दिल्ली. गणतंत्र दिवस (Republic Day) के अवसर पर लाल किले के पास हिंसा भड़काने के आरोपी दीप सिद्धू की जल्द ही गिरफ्तारी हो सकती है. दीप सिद्धू की गिरफ्तारी के लिए दिल्ली पुलिस की दो टीमें पंजाब के लिए रवाना हो चुकी है. बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस की टीमें पंजाब के कुछ शहरं में रेड्स करेगी ताकि सिद्धू को गिरफ्तार किया जा सके.

    लाल किले की प्राचीर पर धार्मिक झंडा लगाने के आरोप में सिद्धू(36) के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. सिद्धू की गिरफ्तारी के लिए दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की टीम पहले ही मौजूद है.

    बता दें कि गणतंत्र दिवस पर राजधानी में हिंसा और लाल किले की घटना के संबंध में एक प्राथमिकी में पंजाबी अभिनेता दीप सिद्धू (Deep Sidhu) और गैंगस्टर से सामाजिक कार्यकर्ता बने लक्खा सिधाना (Lakha Sidhana) का नाम दिल्ली पुलिस ने दर्ज किया है. दिल्ली पुलिस ने उत्तरी जिले के कोतवाली पुलिस स्टेशन पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है जिसमें सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का मामला भी शामिल है.

    ये भी पढ़ेंः- Israel Embassy Blast: दिल्‍ली बम ब्‍लास्‍ट का ईरानी इनेक्‍शन! राजधानी में रह रहे ईरानियों से पूछताछ कर रही स्‍पेशल सेल

    सच्चाई सामने लाने के लिए वक्त चाहिए: दीप सिद्धू
    कुछ दिनों पहले ही दीर सिद्धू ने फेसबुक पर एक वीडियो पोस्ट कर कहा था, मेरे खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है और लुक आउट नोटिस भी जारी किया गया है. पहले तो मैं यह संदेश देना चाहता हूं कि मैं जांच में शामिल होऊंगा. सिद्धू ने कहा कि सच्चाई सामने लाने के लिए उन्हें कुछ वक्त चाहिए. सिद्धू ने कहा,‘‘ क्योंकि गलत सूचना फैलाई गई हैं और वह जनता को गुमराह कर रही हैं. इसलिए मुझे सच्चाई सामने लाने के लिए कुछ वक्त चाहिए और उसके बाद मैं जांच में शामिल होऊंगा.’’

    सिद्धू ने कहा था कि एक स्थान पर पुलिस ने यातायात रोका हुआ था और वे भी वहीं फंस गए थे. उन्होंने दावा कियाा कि पुलिस ने ‘‘कमजोर’’ अवरोधक लगाए थे. उन्होंने दावा किया कि पुलिस एक ट्रैक्टर और एक कार को जाने दे रही थी और वह भी आगे बढ़ गए. सिद्धू ने कहा था कि इसके बाद वे लाल किले के पास पहुंच गए और रास्ते में ही उन्हें एक व्यक्ति से ‘निशान साहिब’ मिल गया था. उन्होंने कहा कि लाल किले में घुसने के बाद उन्होंने वहां हजारों लोगों को देखा.

    किसान संगठन ने लगाया छवि खराब करने का आरोप
    गौरतलब है कि जिस समय लाल किले पर धार्मिक और किसान संगठनों के झंडे लगाए गए तब सिद्धू वहीं पर मौजूद थे. इस घटना के बाद जबरदस्त आक्रोश फैल गया था. किसान संगठनों ने सिद्धू पर आंदोलन की छवि खराब करने का प्रयास करने का आरोप लगाते हुए उन्हें ‘‘गद्दार ’’ करार दिया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज