UNA: मन्नत पूरी होने पर दिल्ली के श्रद्धालु ने चिंतपूर्णी मंदिर को दान में दी कार

मंदिर को दान में दी कार.
मंदिर को दान में दी कार.

मुनीष ने बताया की माँ के दरबार में मन्नत पूरी होने पर उन्होंने यह आल्टो कार दी है और माता रानी के दरबार में इसी तरह से आगे भी सेवा करते रहेंगे. बाद में पुजारी संदीप कालिया द्वारा विधिवत पूजा अर्चना भी श्रद्धालु द्वारा करवाई गई.

  • Share this:
ऊना. हिमाचल प्रदेश को देवभूमि कहा जाता है. यहां के मंदिरों (Tempe) में देश और विदेश के श्रद्धलुओं की आस्था है. दूर-दूर से मंदिरों में भक्त आते हैं और मुरादे मांगते हैं. उत्तरी भारत के सुप्रसिद्ध धार्मिक स्थल चिंतपूर्णी (Chintpurni) में मांगी गई मन्नत पूरी होने पर दिल्ली के एक श्रद्धालु ने मंदिर (Mandir) को एक कार दान की है. श्रद्धालु मुनीश मित्तल ने मंगलवार को अपनी पत्नी के साथ मंदिर पहुँचकर पूजा-अर्चना की और अधिकारियों को गाड़ी की चाबी भेंट की.

दिल्ली से है श्रद्धालु

जानकारी के अनुसार, चिन्तपूर्णी में श्रद्धालु ने मन्नत पूरी होने पर आल्टो कार दान दी. मंगलवार को दिल्ली के श्रद्धालु मुनीष मित्तल ने पत्नी कविता मित्तल के साथ चिंतपूर्णी माता के दर्शन करने के उपरांत मंदिर न्यास के सह आयुक्त व एसडीएम अम्ब मनीष यादव और मंदिर अधिकारी रोहित जाल्टा को मंदिर प्रांगन में कार की चाबी सौंपी.



कार की चाबी अधिकारियों को सौंपता भक्त.

क्या बोले मुनीष

मुनीष ने बताया की माँ के दरबार में मन्नत पूरी होने पर उन्होंने यह आल्टो कार दी है और माता रानी के दरबार में इसी तरह से आगे भी सेवा करते रहेंगे. बाद में पुजारी संदीप कालिया द्वारा विधिवत पूजा अर्चना भी श्रद्धालु द्वारा करवाई गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज