दिल्ली में शराब पीने की उम्र घटाई गई, जानें किन राज्यों में 21 साल से नीचे छलका सकते हैं जाम

दिल्ली में शराब पीने की उम्र में कमी की गई है. (फाइल फोटो)

दिल्ली में शराब पीने की उम्र में कमी की गई है. (फाइल फोटो)

Delhi News: नई आबकारी नीति के अनुसार, दिल्ली में शराब की नई दुकानें नहीं खोली जाएंगी और सरकार कोई शराब दुकान नहीं चलाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2021, 4:48 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने घोषणा की कि मंत्रिमंडल ने शराब पीने की उम्र 25 साल से घटाकर 21 साल करते हुए नई आबकारी नीति को सोमवार को मंजूरी दे दी. नई नीति के अनुसार, दिल्ली में शराब की नई दुकानें नहीं खोली जाएंगी और सरकार कोई शराब दुकान नहीं चलाएगी.



आइए जानते हैं दूसरे राज्यों में शराब पीने को लेकर क्या है उम्र की सीमा

इन राज्यों में शराब पर प्रतिबंध: बिहार, गुजरात, नागालैंड, लक्षद्वीप और मिजोरम ड्राय स्टेट और केंद्रशासित प्रदेशों की सूची में आते हैं. इन राज्यों में शराब पर पूर्ण पाबंदी है. मणिपुर के कुछ जिलों में भी शराब पर आंशिक प्रतिबंध है.



शराब के लिए उम्र सीमा 25 वर्ष: पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और महाराष्ट्र (पहले दिल्ली भी इसी श्रेणी में आती थी) में 25 से कम उम्र वालों के लिए शराब पीने की मनाही है. हालांकि, महाराष्ट्र में 21 या इससे अधिक उम्र के लोग हल्की बीयर का लुत्फ उठा सकते हैं.


Youtube Video


23 साल: केरल में 2017 से पहले शराब पीने की न्यूनतम उम्र 21 साल थी, जिसे बाद में बढ़ाकर 23 साल कर दिया गया.



18 साल: राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, गोवा, पुदुचेरी, सिक्किम, लद्दाख एवं जम्मू और कश्मीर में लोग 18 साल की उम्र से ही शराब का सेवन कर सकते हैं.





21 साल: दूसरे राज्यों में शराब पीने की न्यूनतम उम्र सीमा 21 साल निर्धारित की गई है.



कर्नाटक: इस राज्य में शराब पर 1 जुलाई 2007 से प्रतिबंध लगा हुआ है. जबकि कर्नाटक आबकारी विभाग 1967 के मुताबिक राज्य में शराब पीने की उम्र 21 साल तय की गई है और कर्नाटक आबकारी कानून 1965 कहता है कि शराब खरीदने के लिए न्यूनतम उम्र सीमा 18 साल होनी चाहिए.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज