लाइव टीवी

दिल्ली फायर सर्विस ने रद्द की छुट्टियां, दिवाली के मौके पर तैनात होंगे 2000 कर्मी

भाषा
Updated: October 26, 2019, 9:25 AM IST
दिल्ली फायर सर्विस ने रद्द की छुट्टियां, दिवाली के मौके पर तैनात होंगे 2000 कर्मी
दिवाली को ध्यान में रखते हुए दिल्ली फायर सर्विसेस ने अपने कर्मियों की छुट्टिया रद्द कर दी हैं.

दिल्ली अग्निशमन सेवा (Delhi Fire Services) ने अपने कर्मियों के छुट्टी आवेदन (Leave Application) रद्द कर दिए हैं और उसके 2000 अधिकारी दिवाली (Diwali) के मौके पर किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैनात किए जाएंगे.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली अग्निशमन सेवा (Delhi Fire Services) ने अपने कर्मियों के छुट्टी आवेदन (Leave Application) रद्द कर दिए हैं और उसके 2000 अधिकारी दिवाली (Diwali) के मौके पर किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैनात किए जाएंगे. अधिकारियों ने इस बात की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि अधिकारियों से यह सुनिश्चित करने को कहा गया है कि दमकल गाड़ियां पूरी तरह दुरूस्त हों और आपातस्थिति से निपटने के लिए जरूरी चीजों से लैंस हों.

अग्निशमन विभाग ने कहा कि पिछले साल की तुलना में उसने इस बार शहर में विभिन्न स्थानों पर 500 अतिरिक्त कर्मी तैनात किए हैं और आपातस्थितियों का संज्ञान लेने के लिए नियंत्रण कक्षों में 25 कर्मी लगाए गए हैं. एक वरिष्ठ अग्निशमन अधिकारी ने कहा, ‘इस साल हमारे पास किसी भी आपातस्थिति से निटपने के लिए अतिरिक्त कर्मी हैं और हम विशेष सुविधाओं से लैस हैं.’

पिछले साल दिवाली में आग से संबंधित 261 घटनाएं हुईं
पिछले साल राष्ट्रीय राजधानी में दिवाली में आग से संबंधित 261 घटनाएं सामने आई थीं. दिल्ली अग्निशमन सेवा ने कहा कि पिछले साल पटाखों की बिक्री पर पाबंदी के बावजूद उसके पास 200 कॉल आए. इस साल ग्रीन पटाखों की बढ़ती मांग के मद्देनजर उसे इन कॉलों में 10-15 फीसद गिरावट आने की उम्मीद है. शहर में 61 स्थायी अग्निशमन केंद्रों के अलावा अग्निशमन विभाग ने दो अस्थायी स्टेशन भी बनाए हैं.

ये भी पढ़ें-

दिल्ली-NCR में बेहद खराब हुई हवा, 26-30 अक्टूबर तक निर्माण कार्य पर प्रतिबंध

CP में होने वाले लेजर शो का विरोध, दुकानदारों ने दी सुसाइड करने की धमकी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 26, 2019, 9:25 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...