Sheila Dikshit: पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को आज दी जाएगी आखिरी सलामी, निगम बोध घाट पर होगा अंतिम संस्‍कार

Sheila Dikshit died at age 81: उनका पार्थिव शरीर उनके आवास से रविवार सुबह 11.30 बजे कांग्रेस दफ्तर ले जाया जाएगा. यहां 12.15 बजे से 1.30 बजे तक अंतिम दर्शनों के लिए रखा जाएगा.

News18Hindi
Updated: July 21, 2019, 9:18 AM IST
Sheila Dikshit: पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को आज दी जाएगी आखिरी सलामी, निगम बोध घाट पर होगा अंतिम संस्‍कार
शीला दीक्षित का पार्थिव शरीर कांग्रेस मुख्यालय से निगमबोध घाट ले जाया जाएगा, जहां उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.
News18Hindi
Updated: July 21, 2019, 9:18 AM IST
दिल्ली की सबसे लंबे समय तक सीएम रहीं कांग्रेस की कद्दावर नेता शीला दीक्षित का शनिवार दोपहर 3.55 बजे एस्कॉर्ट हॉस्पिटल में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. 81 वर्षीय शीला दीक्षित लंबे समय से हृदय से संबंधित बीमारी से जूझ रही थीं. उनके निधन के बाद सियासी गलियारे में शोक की लहर छा गई. शाम 6 बजे उनका पार्थिव शरीर अंतिम दर्शनों के लिए उनके निजामुद्दीन स्थित आवास लाया गया.

कांग्रेस कार्यालय में अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा पार्थिव शरीर 

पीएम नरेंद्र मोदी से लेकर कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी तक श्रद्धांजलि देने उनके आवास पर पहुंचे. दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने उनके निधन पर दो दिन का राजकीय शोक घोषित कर दिया. जिसकी घोषणा खुद उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने की. साथ ही राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार करने का फैसला किया है. उनका पार्थिव शरीर उनके आवास से रविवार सुबह 11.30 बजे कांग्रेस दफ्तर के लिए रवाना किया जाएगा. यहां 12.15 बजे से 1.30 बजे तक अंतिम दर्शनों के लिए रखा जाएगा. इसके बाद पार्थिव शरीर को निगमबोध घाट ले जाया जाएगा, जहां 2.30 बजे उनका अंतिम संस्कार होगा.

शहीदों की याद में होने वाला कार्यक्रम एक दिन के लिए स्थगित 
Loading...

शीला दीक्षित के निधन के बाद करगिल शहीदों की याद में होने वाला कार्यक्रम एक दिन के लिए स्थगित कर दिया गया है. पहले यह कार्यक्रम इंडिया गेट पर 21 जुलाई की शाम 7.30 से 8.30 बजे के बीच होना था. इसमें ट्राई सर्विस बैंड परफॉर्मेंस होना था. हालांकि, रविवार को विजय चौक से इंडिया गेट तक सुबह 6 बजे से करगिल विजय रन कार्यक्रम में कोई बदलाव नहीं हुआ है.

'रूस और भारत के दोस्ताना संबंधों में निभाई अहम भूमिका' 

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि देने के लिए शनिवार शाम को उनके आवास पहुंचे. वहीं, लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भी उनके अंतिम दर्शनों के लिए पहुंचे. इनके अलावा रूसी दूतावास ने ट्वीट कर शीला दीक्षित के निधन पर दुख जताया. दूतावास ने कहा कि शीला दीक्षित ने दोनों देशों के दोस्ताना संबंधों में अहम भूमिका निभाई.

ये भी पढ़ें:

Sheila Dikshit को जब अपनों के विरोध का करना पड़ा सामना, कांग्रेस के नेता ने ही करा डाली उनकी जांच

Sheila Dikshit के निधन पर शोक की लहर, पीएम मोदी से लेकर राहुल गांधी तक ने जताया दुख
First published: July 20, 2019, 6:30 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...