दिल्ली में बीत चुका कोरोना का पीक, कई राज्यों में आना बाकी: AIIMS निदेशक रणदीप गुलेरिया

दिल्ली में बीत चुका कोरोना का पीक, कई राज्यों में आना बाकी: AIIMS निदेशक रणदीप गुलेरिया
भारत में एक दिन में कोविड-19 के रिकॉर्ड 40,425 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमित लोगों की कुल संख्या सोमवार को 11 लाख के आंकड़े को पार कर गई.

एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया (AIIMS Director Randeep Guleria) ने सोमवार को कहा कि ऐसा लग रहा है कि दिल्ली (Delhi) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामलों का पीक बीत चुका है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 21, 2020, 12:16 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमितों का आंकड़ा 11 लाख के पार हो गया है. दिल्ली में यह आंकड़ा 1,23,747 हो गया है. दिल्ली में एक दिन में आने वाले मामलों में लगातार कमी देखी जा रही है. दिल्ली में सोमवार को दर्ज किये गए मामलों की संख्या 954 है. जबकि इसी दिन करीब 1784 लोगों को विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी भी दी गई. दिल्ली में कोविड-19 (Covid-19) की स्थिति को लेकर अच्छी खबर सामने आई है. एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया (AIIMS Director Randeep Guleria) ने सोमवार को कहा कि ऐसा लग रहा है कि दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले का पीक बीत चुका है.

एम्स के निदेशक ने कहा कि देश के कुछ इलाकों में मामले अपनी पीक पर पहुंचे हैं. ऐसा लगता है कि दिल्ली में ऐसा हुआ है क्योंकि यहां मामलों में काफी गिरावट आई है. कुछ क्षेत्रों को अभी चरम पर पहुंचना बाकी है. कुछ राज्यों में मामले बढ़ रहे हैं. वे कुछ समय बाद शिखर पर पहुंचेंगे. देश में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों को लेकर गुलेरिया ने कहा कि यदि आप केवल भारत ही नहीं, बल्कि दक्षिण-पूर्व एशिया के आंकड़ों को देखें, तो इटली और स्पेन में जो कुछ हुआ है या जो अमेरिका में हो रहा है, उसकी तुलना में मृत्यु दर बहुत कम है.

स्थानीय स्तर पर हो सकता है कम्युनिटी ट्रांसमिशन
वहीं देश में कोरोना वायरस के कम्युनिटी ट्रांसमिशन को लेकर एम्स निदेशक ने कहा कि इस बात के अधिक प्रमाण नहीं हैं कि राष्ट्रीय स्तर पर सामुदायिक प्रसारण हो रहा है. लेकिन हॉटस्पॉट्स हैं, यहां तक कि उन शहरों में भी जहां मामलों की अधिकता है और यह बहुत संभावना है कि उन क्षेत्रों में स्थानीय सामुदायिक प्रसारण हो रहा है.
ये भी पढ़ें- जनसंख्या की दौड़ में आगे आया पाकिस्तान, भारत और चीन में घटी प्रजनन दर



गौरतलब है कि भारत में एक दिन में कोविड-19 के रिकॉर्ड 40,425 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमित लोगों की कुल संख्या सोमवार को 11 लाख के आंकड़े को पार कर गई. वहीं, उपचार के बाद संक्रमण से मुक्त होने वाले लोगों की संख्या भी सात लाख से अधिक हो गई है. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार 681 और लोगों की जान जाने के बाद इस बीमारी से मरने वालों की कुल संख्या 27,497 हो गई है. मंत्रालय द्वारा सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के अनुसार संक्रमण के रिकॉर्ड 40,425 नए मामले आने के बाद देश में कोविड-19 के कुल मामलों की संख्या 11,18,043 हो गई है.

ये भी पढ़ें- IBM के CEO से पीएम मोदी की बातचीत, बोले-भारत में निवेश का सही वक्त

तीन दिन में 10 लाख से 11 लाख हुए केस
भारत में महज तीन दिन में ही कोविड-19 के मामले 10 लाख से 11 लाख आंकड़े को पार कर गए हैं. यह पहली बार है जब एक दिन में महामारी के 40 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं. देश में अभी 3,90,459 मरीजों का इलाज जारी है और 7,00,086 लोग ठीक हो चुके हैं. वहीं, एक मरीज देश से बाहर चला गया है. स्वस्थ होने की दर 62.62 प्रतिशत है. पिछले 24 घंटों में 22,664 मरीज ठीक हुए हैं. कुल मामलों में देश में संक्रमित पाए गए विदेशी नागरिक भी शामिल हैं.

सोमवार तक के आंकड़ों के अनुसार स्वस्थ हुए कोविड-19 रोगियों की संख्या उपचाराधीन रोगियों की संख्या 3,09,627 से कहीं अधिक है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज