होम /न्यूज /राष्ट्र /भाजपा का आप पर निशाना, कहा- केजरीवाल आबकारी नीति ‘घोटाले’ के सरगना, हथकड़ी उनके करीब आ रही

भाजपा का आप पर निशाना, कहा- केजरीवाल आबकारी नीति ‘घोटाले’ के सरगना, हथकड़ी उनके करीब आ रही

बीजेपी प्रवक्ता गौरव भाटिया ने 'आप' पर अपने करीबी को शराब का ठेका देने का आरोप लगाया है. (फाइल फोटो)

बीजेपी प्रवक्ता गौरव भाटिया ने 'आप' पर अपने करीबी को शराब का ठेका देने का आरोप लगाया है. (फाइल फोटो)

Arvind kejriwal, Delhi New Excise Policy, Delhi Liquor Scam: भाटिया ने कहा, ‘‘कोविड-19 महामारी की जब दूसरी लहर आई थी, त ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind kejriwal) पर आबकारी नीति ‘घोटाले’ (excise policy scam) का ‘सरगना’ होने का आरोप लगाया और कहा कि भ्रष्टाचार की कलई खुलने के साथ-साथ हथकड़ी उनके करीब आ रही है. भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव भाटिया (Gaurav Bhatia) ने यहां संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया कि जब कोविड-19 प्रभावित लोगों को मदद की जरूरत थी तब केजरीवाल भ्रष्टाचार में लिप्त थे.

उन्होंने कहा, ‘‘आबकारी नीति ‘घोटाले’ की जड़ें भ्रष्ट केजरीवाल के दरवाजे तक जाती हैं. कोई भी कानून से ऊपर नहीं है और किसी भी भ्रष्ट व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा.’’ भाटिया ने कहा कि यह शर्मनाक है कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया कह रहे हैं कि ‘‘ यह महज एक करोड़ रुपये का छोटा सा घोटाला है.’’

आबकारी नीति भ्रष्ट साबित हुई है
संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा, ‘‘दिल्ली की आबकारी नीति भ्रष्ट साबित हुई है. अरविंद केजरीवाल इस पूरे घोटाले के सरगना हैं.’’ भाटिया ने कहा कि आम आदमी पार्टी (आप) को 24 घंटे के भीतर बताना चाहिए कि अगर भ्रष्टाचार नहीं हुआ तो नयी आबकारी नीति क्यों वापस ली गई.

उन्होंने कहा, ‘‘ अगर केजरीवाल में थोड़ी भी नैतिकता बची है, तो उन्हें सत्येंद्र जैन और सिसोदिया को मंत्री पद से बर्खास्त कर देना चाहिए.’’ उन्होंने तंज कसते हुए कि कहा कि ‘आप’ के भ्रष्टाचार की गारंटी (भारतीय मानक ब्यूरो के)‘आईएसआई मार्क’ की गारंटी से बड़ी है. उन्होंने कहा कि दिल्ली और पंजाब की आप सरकारों के स्वास्थ्य मंत्री भ्रष्टाचार के आरोपों में जेल में हैं.

कोविड के टाइम भ्रष्ट कलम आबकारी नीति पर हस्ताक्षर कर रही थी
भाटिया ने कहा, ‘‘कोविड-19 महामारी की जब दूसरी लहर आई थी, तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा चिकित्सा आपूर्ति सुनिश्चित करने और स्वास्थ्य अवसरंचना में सुधार करने में जुटी हुई थी. उस समय केजरीवाल को दवाइयों, बिस्तर और ऑक्सीजन की जरूरत पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए था, लेकिन उनकी भ्रष्ट कलम आबकारी नीति पर हस्ताक्षर कर रही थी.’’

भाजपा नेता ने कहा कि केजरीवाल, सिसोदिया और सत्येंद्र जैन ‘‘पूरी तरह से भ्रष्ट’’ लोग हैं. भाटिया ने कहा, ‘‘आज, भारत के लोग कह रहे हैं कि यह ‘आप’ नहीं, ‘पाप’ है, भ्रष्टाचार का ‘बाप’ है और जनता के लिए अभिशाप है.’’

सिसोदिया ने दावा किया था कि उनके खिलाफ ‘लुकआउट नोटिस’ जारी किया गया है. इस पर भाटिया ने कहा, ‘‘घोटालेबाजों को केवल लुकआउट नोटिस मिलता है न कि बधाई पत्र.’’

जनता ‘आप’ को जवाब देगी
‘आप’ के इस दावे पर कि 2024 के लोकसभा चुनाव में केजरीवाल और प्रधानमंत्री मोदी के बीच सीधा मुकाबला होगा, भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि हर कोई जानता है कि उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और गोवा चुनावों में क्या हुआ. उन्होंने कहा कि जनता ‘आप’ को जवाब देगी. गुप्ता ने कहा कि स्वतंत्र भारत के इतिहास में ऐसा पहली बार है कि राज्य के शिक्षा मंत्री ही ‘‘शराब मंत्री’’ भी हैं.

गौरतलब है कि दिल्ली सरकार की आबकारी नीति 2021-22 में अनियमितता के सिलसिले में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने शुक्रवार को उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के आवास समेत 31 स्थानों पर छापेमारी की थी.

Tags: AAP, Arvind kejriwal, BJP, CBI investigation, CBI Probe, Manish sisodia

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें