CAA-NRC प्रोटेस्ट और Lockdown में हुए दिल्ली Metro के घाटे को सुनकर चौंक जाएंगे आप

मेट्रो को हुए इस घाटे के बारे में केन्द्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने लोकसभा में दी है;
मेट्रो को हुए इस घाटे के बारे में केन्द्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने लोकसभा में दी है;

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) कानून के विरोध में चल रहे प्रदर्शनों से भी मेट्रो को नुकसान हुआ है. हर रोज़ किसी न किसी मेट्रो स्टेशन को कुछ वक्त बंद करने के चलते यात्रियों (Passengers) की संख्या घट जाती थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 27, 2020, 7:34 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस संक्रमण को लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान दूसरी चीजों की तरह मेट्रो ट्रेन (Metro Train) की सेवाएं भी पूरी तरह से बंद कर दी गईं थी. एक लंबे वक्त तक मेट्रो ट्रेन बंद रहने के बाद सितम्बर के शुरुआती दिनों में खोली गई, लेकिन 5 महीने से भी ज़्यादा वक्त तक बंद रहने से मेट्रो को सैकड़ों करोड़ का घाटा हुआ है.

इस घाटे को पूरा करना हाल-फिलहाल मेट्रो के बस में नहीं दिख रहा है. इतना ही नहीं लॉकडाउन से पहले नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) कानून के विरोध में चल रहे प्रदर्शनों से भी मेट्रो को नुकसान हुआ है. हर रोज़ किसी न किसी मेट्रो स्टेशन को कुछ वक्त बंद करने के चलते यात्रियों (Passengers) की संख्या घट जाती थी.

यह भी पढ़ें- अब इसलिए नहीं दिखाई दे रही हैं JNU छात्र नजीब को शहर-शहर सड़कों पर तलाशने वालीं उनकी मां फातिमा



दिल्ली मेट्रो को 1609 करोड़ का घाटा हुआ 
शहरी कार्य राज्यमंत्री हरदीप पुरी ने दिल्ली मेट्रो को हुए घाटे से जुड़े आंकड़े जारी करते हुए कहा है कि बीते दिनों लॉकडाउन के दौरान मेट्रो को 1609 करोड़ रुपये का घाटा हुआ. वहीं दिसंबर से फरवरी तक नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) कानून के विरोध में चले प्रदर्शनों से भी यात्री संख्या घटने के कारण राजस्व का नुकसान हुआ है. यह एक बड़ा नुकसान है. इस नुकसान क भरपाई आसान नहीं है.

Delhi Metro train, lockdown, CAA, NRC protest, lok sabha, hardeep puri, दिल्ली मेट्रो ट्रेन, लॉकडाउन, सीएए, एनआरसी विरोध, लोक सभा, हरदीप पुरी
नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पूरी. (फाइल फोटो)


यह भी पढ़ें- UP के इस शहर में बीटेक डिग्रीधारी युवक कर रहा था चाइल्ड पोर्नग्राफी का धंधा, CBI ने दबोचा

दोबारा ऐसे शुरु हुई दिल्ली मेट्रो सेवा

दिल्ली मेट्रो की सेवाएं पांच महीने से भी ज्‍याद वक्त के बाद शुरू हुई हैं. 7 सितम्बर को सिर्फ एक लाइन खोलकर सेवाएं शुरू की गईं थी. परिचालन का समय सुबह 7 बजे से 11 बजे तक और शाम 4 से 6 बजे तक रखा गया है. वहीं, प्रमुख मेट्रो स्टेशनों पर केवल चयनित गेट से ही एंट्री की की अनुमति दी है. एग्जिट के लिए भी अलग गेट है. यात्रियों को केवल स्मार्ट कार्ड का उपयोग और कैशलेस/ऑनलाइन लेनदेन की अनुमति दी गई है. तीन चरणों में मेट्रो की सेवाएं शुरू की गई हैं.

12 सितम्बर से सारे स्टेशनों पर सेवाएं बहाल हो गई हैं. कोविड महामारी को देखते हुए दिल्ली मेट्रो में यात्रियों की सुरक्षित यात्रा सुनिश्चित करने के लिए दिल्ली परिवहन विभाग कोई कसर नहीं छोड़ रहा है. दिल्ली परिवहन विभाग ने भीड़ को प्रबंधित करने और सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित कराने के लिए मेट्रो स्टेशनों पर सिविल वोलेंटियर्स को तैनात किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज