कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों पर लगाम के लिए राज्यों को दी जाएगी 'दिल्ली मॉडल' की सीख

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों पर लगाम के लिए राज्यों को दी जाएगी 'दिल्ली मॉडल' की सीख
देश में कोरोना संक्रमण के मामले 13 लाख को पार कर चुके हैं.

दिल्ली (Delhi) के मुख्य सचिव विजय देव केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के ​अधिकारियों के सामने कोरोना (Corona) के बढ़ते मामलों पर लगाम कसने के लिए किए गए प्रयासों की जानकारी देंगे.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश में तेजी से बढ़ते कोविड-19 (COVID-19) संक्रमण के मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार आज एक ​बार फिर राज्यों के साथ बैठक करने जा रही है. इस बैठक में कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए विभिन्न राज्यों से 'दिल्ली मॉडल' (Delhi model) को अपनाने की बात कही जा सकती है. देश में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पिछले 3 दिन में ही कोरोना के डेढ़ लाख के करीब मामले सामने आ चुके हैं.

अभी तक की जानकारी के मुताबिक, आज होने वाली बैठक की अध्यक्षता केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला करेंगे. इस बैठक से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि राज्यों के साथ होने वाली इस उच्चस्तरीय बैठक में दिल्ली में कोरोना के खिलाफ उठाए कदम को अपनाने के लिए राज्यों से प्लानिंग करने को कहा जाएगा. इसके साथ ही आने वाले दिनों में दिल्ली में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए आगे की रणनीति भी तैयार की जाएगी.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, दिल्ली के मुख्य सचिव विजय देव केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के ​अधिकारियों के सामने कोरोना के बढ़ते मामलों पर लगाम कसने के लिए किए गए प्रयासों की जानकारी देंगे. इस बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण और नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल भी शामिल रहेंगे.



इसे भी पढ़ें :- कोरोना से लड़ने के लिए दिए थे 8.7 करोड़ रुपये, अब खुद महामारी की चपेट में आया ये दिग्गज
बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक मीडिया हाउस को दिए इंटरव्यू में बताया था कि उनकी सरकार ने दिल्ली में कोरोना के संक्रमण को कम करने के लिए परीक्षण, होम आइसोलेशन, सही जानकारी, अस्पतालों में बेड की व्यवस्था और प्लाज्मा थेरेपी पर विशेष रूप से काम किया था. इन सभी चीजों को हासिल करने के लिए तीन सिद्धांत का पालन करना बेहद जरूरी है. पहला टीम वर्क, दूसरा रचनात्मक आलोचना को स्वीकार करना और तीसरा हालत राज्य में कोरोना की स्थिति कितनी भी बुरी क्यों न हो, एक सरकार के रूप में हथियार नहीं डालना.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading