Home /News /nation /

रेल की टिकट न मिलने पर बिहार नहीं जा पाई दिल्‍ली पुलिस, अपहृत लड़की नहीं हो सकी रेस्‍क्‍यू

रेल की टिकट न मिलने पर बिहार नहीं जा पाई दिल्‍ली पुलिस, अपहृत लड़की नहीं हो सकी रेस्‍क्‍यू

अपहृत लड़की को लाने में नाकाबिल पुलिस को आयोग का नोटिस.

अपहृत लड़की को लाने में नाकाबिल पुलिस को आयोग का नोटिस.

दिल्‍ली पुलिस ने आयोग को सूचित किया कि रेलवे की टिकटों की अनुपलब्धता के कारण 10 नवंबर से पहले रेस्क्यू टीम के लिए टिकटों का इंतजाम नहीं किया जा सका जिस कारण रेस्क्यू ऑपरेशन में 13 दिन की देरी हुई और लड़की नहीं मिली.

    नई दिल्‍ली. दिल्ली महिला आयोग (Delhi Commission for Women) ने अपहृत 13 साल की बच्ची को रेस्क्यू करने के लिए बिहार जाने में विफल रहने पर दिल्ली पुलिस को समन जारी किया है. नाबालिग किशोरी का अपहरण 9 मई 2021 को आधी रात में दिल्ली से किया गया था जिसके बाद पीड़िता की मां ने तुरंत थाना मैदान गढ़ी में आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई और फिर आयोग को संपर्क किया. तब से लेकर अभी तक आयोग ने पुलिस के साथ मिलकर उसे वापस लाने की कोशिशें कीं लेकिन वह उसे लाने में सफल नहीं हो सके.

    दिल्‍ली महिला आयोग की ओर से बताया गया कि मई में गायब हुई किशोरी के बारे में 20 अक्‍टूबर को पता चला कि वह बिहार के वैशाली जिले में है और उसका विवाह एक 19 साल के लड़के के साथ कर दिया गया है. इसके बाद लड़की की लोकेशन को लेकर छानबीन की जाती रही. दिल्ली पुलिस ने आयोग को आश्वासन दिया कि लड़की को जल्द से जल्द दिल्ली वापस लाया जाएगा, लेकिन लाने की करवाई होते-होते 13 दिन बीत गए और पुलिस की टीम 10 नवंबर को बिहार गई. 13 दिन की देरी होने के कारण रेस्क्यू टीम को लड़की का वहा कोई नामों निशान नहीं मिला और उसके अपहरणकर्ता उसको दूसरे स्थान पर ले जाने में सफल हो गए.

    इस मामले में स्पष्टीकरण मांगने पर, पुलिस ने आयोग को सूचित किया कि रेलवे की टिकटों की अनुपलब्धता के कारण 10 नवंबर से पहले रेस्क्यू टीम के लिए टिकटों का इंतजाम नहीं किया जा सका जिस कारण रेस्क्यू ऑपरेशन में 13 दिन की देरी हुई और लड़की नहीं मिली. आयोग ने मामले का कड़ा संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस को तलब कर मामले में विस्तृत जवाब मांगा है कि इतना गंभीर मामला होने के बावजूद रेस्क्यू में ढिलाई क्यों बरती गई. आयोग ने पुलिस से मामले पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए लड़की को वापिस लाने के लिए अन्य वैकल्पिक व्यवस्था नहीं करने का कारण भी पूछा है. लड़की पहले से ही तस्करी की शिकार थी और इस तरह की लापरवाही ने उसे और अधिक खतरे में डाल दिया. अन्त में आयोग ने पुलिस से लड़की का पता लगाने और उसे जल्द से जल्द आयोग के सामने पेश करने को कहा है.

    डीसीडब्ल्यू प्रमुख स्वाति मालीवाल ने पूरे मामले पर अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा, यह बिल्कुल भी स्वीकार्य नहीं है, इस तरह की लापरवाही बिलकुल गलत है पुलिस को तुरंत ही बिहार जाकर लड़की को रेस्क्यू करना चाहिए था. पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए किसी विशेष व्यवस्था का इंतजाम क्यों नहीं किया? अब केवल भगवान ही जानता है कि लड़की कहां है और वह इस समय किन परिशानियों का सामना कर रही होगी. मैंने दिल्ली पुलिस को समन जारी कर रेस्क्यू में देरी के लिए विस्तृत जवाब मांगा है और उनसे यह भी सुनिश्चित करने को कहा है कि लड़की को मेरे सामने तुरंत पेश किया जाए.

    Tags: Delhi Commission for Women, Delhi police, Kidnapping Case, Swati Maliwal

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर