होम /न्यूज /राष्ट्र /क्या जहांगीरपुरी की मस्जिद में भगवा झंडा फहराने की कोशिश हुई? जानें दिल्ली पुलिस कमिश्नर का जवाब

क्या जहांगीरपुरी की मस्जिद में भगवा झंडा फहराने की कोशिश हुई? जानें दिल्ली पुलिस कमिश्नर का जवाब


जहांगीरपुरी हिंसा की जांच के लिए 14 टीमें गठित की गई हैं: राकेश अस्थाना

जहांगीरपुरी हिंसा की जांच के लिए 14 टीमें गठित की गई हैं: राकेश अस्थाना

Jahangirpuri Violence : अस्थाना ने कहा कि कुछ लोग स्थिति को तनावपूर्ण बनाए रखने के लिए सोशल मीडिया पर अफवाहें फैला रहे ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. जहांगीपुरी हिंसा मामले में दिल्ली के पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना (Delhi Police Commissioner Rakesh Asthana) ने सोमवार, 18 अप्रैल को अहम खुलासा किया. उन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान उन खबरों को गलत बताया जिनमें कहा जा रहा था कि जहांगीरपुर की मस्जिद में कुछ लोगों ने भगवा झंडा फहराने की कोशिश की थी. इसलिए हनुमान जन्मोत्सव के दौरान हिंसा (Jahangirpuri Violence) भड़की. अस्थाना ने कहा कि कुछ लोग स्थिति को तनावपूर्ण बनाए रखने के लिए सोशल मीडिया पर अफवाहें फैला रहे है. उन पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है.

उन्होंने बताया कि इस मामले में अब तक 23 लोगों को पकड़ा गया है. उनमें से 8 लोगों का आपराधिक रिकॉर्ड है. उन्होंने यह भी भरोसा दिलाया कि इस हिंसा में शामिल लोगों को वर्ग, पंथ या धर्म के आधार पर बख्शा नहीं जाएगा. मौके पर 4 फॉरेंसिक टीमों ने पहुंचकर सबूत इकट्ठा किए हैं. हिंसक झड़पों की जांच अपराध शाखा को सौंप दी गई है. इस सिलसिले में 14 टीमों का गठन किया गया है. ये टीमें सीसीटीवी फुटेज और डिजिटल जानकारी के विश्लेषण के माध्यम से सभी कोणों से जांच कर रही हैं.

गौरतलब है कि दिल्ली के जहांगीरपुरी में हनुमान जन्मोत्सव के अवसर पर निकाली गई शोभायात्रा के दौरान दो समुदायों के बीच हुई झड़प हो गई थी. इसी दौरान दोनों तरफ से पथराव हो गया. साथ ही छुटपुट आगजनी भी हुई. इस घटना में 8 पुलिसकर्मी और 1 स्थानीय व्यक्ति घायल हो गया था.

बताया जाता है कि इस घटना के बाद सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना (Supreme Court Chief Justice NV Ramana) को एक पत्र भेजा गया था. इसमें आरोप लगाया गया था कि दिल्ली पुलिस मामले की जांच में पक्षपात कर रही है. इसी के बाद दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना (Delhi Police Commissioner Rakesh Asthana) ने मीडिया के सामने आकर तमाम गलतफहमियां दूर करने की कोशिश की है.

हालांकि इलाके में अब भी तनाव बना हुआ है. खबर है कि सोमवार को वहां पूछताछ के लिए गई अपराध शाखा की टीम पर कुछ लोगों ने पत्थरबाजी भी की है. पुलिस ने पत्थरबाजी करने वाले एक आरोपी को हिरासत में भी लिया है.

Tags: Delhi Police Commissioner, Delhi Violence, Hindi news, Rakesh asthana

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें