अपना शहर चुनें

States

'ऑपरेशन ब्लू स्टार पर माफी मांगे सरकार, गांधी परिवार की भूमिका की हो जांच'

हरमिंदर साहिब
हरमिंदर साहिब

6 जून को होने वाली ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी से पहले एक बार फिर से अकाल तख्त पर हुए हमले का मुद्दा गरमा गया है.

  • Share this:
6 जून को होने वाली ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी से पहले एक बार फिर से अकाल तख्त पर हुए हमले का मुद्दा गरमा गया है. दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने भारत सरकार को चिट्ठी लिखकर ऑपरेशन ब्लू स्टार के लिए सार्वजनिक माफी मांगने के लिए कहा है. साथ ही कमेटी ने ऑपरेशन ब्लू स्टार में गांधी परिवार की भूमिका को लेकर जांच करवाने की भी मांग की है.

इससे पहले 2018 में शिरोमणि अकाली दल नेतृत्व ने अतीत में 'अनजाने' में हुई 'गलतियों' को लेकर अकाल तख्त के सामने पेश होकर माफी मांगी और अरदास की थी.

क्या था ऑपरेशन ब्लू स्टार



पंजाब में सिख आतंकवाद को दबाने के लिए इंदिरा गांधी ने 5 जून 1984 को ऑपरेशन ब्लू स्टार शुरू करवाया. 5 जून की सुबह हरमंदिर साहिब परिसर में भारतीय सेना ने अकाल तख्त पर सामने से हमला किया. रात करीब साढ़े दस बजे के बाद 20 कमांडो स्वर्ण मंदिर में घुसे.
सुबह चार बजे के आसपास तीन विकर-विजयंत टैंक लगाए गए. उन्होंने 105 मिलिमीटर के गोले दागकर अकाल तख्त की दीवारें उड़ा दीं. उसके बाद कमांडो और पैदल सैनिकों ने उग्रवादियों की धरपकड़ शुरू की. इस ऑपरेशन में बड़ी संख्या में सैनिक और सिविलियन्स मारे गए थे.

ऑपरेशन में आतंकवादी भिंडरावाला सहित कई की मौत हो गई और इस कार्रवाई में स्वर्ण मंदिर के कुछ हिस्सों को क्षति पहुंची. भिंडरावाले की मौत और स्वर्ण मंदिर की क्षति का बदला लेने के लिए इंदिरा गांधी की हत्या कर दी.

दिल्ली मेट्रो कार्ड में नहीं है महिला-पुरुष पहचानने की क्षमता, कैसे लागू होगा केजरीवाल का फैसला

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज