• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • दिल्ली़ व्यापक जांच जारी रखे, कोविड, फ्लू के एक जैसे लक्षण हैं: विशेषज्ञ

दिल्ली़ व्यापक जांच जारी रखे, कोविड, फ्लू के एक जैसे लक्षण हैं: विशेषज्ञ

विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना और फ्लू के लक्षण एक जैसे हैं, इसलिए जांच जारी रखना होगा. (सांकेतिक फोटो)

विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना और फ्लू के लक्षण एक जैसे हैं, इसलिए जांच जारी रखना होगा. (सांकेतिक फोटो)

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की हाल में हुई एक बैठक के दौरान विशेषज्ञों ने कहा कि फ्लू (Flu) एवं कोविड-19 (Covid-19) के लक्षण एक जैसे हैं और दिल्ली सरकार (Delhi Government) को कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus Infection) को नियंत्रण में रखने के लिए व्यापक जांच जारी रखनी चाहिए. उपराज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में हुई बैठक में दिल्ली में महामारी की स्थिति पर चर्चा की गई.

  • Share this:

    नयी दिल्ली. दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की हाल में हुई एक बैठक के दौरान विशेषज्ञों ने कहा कि फ्लू (Flu) एवं कोविड-19 (Covid-19) के लक्षण एक जैसे हैं और दिल्ली सरकार (Delhi Government) को कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus Infection) को नियंत्रण में रखने के लिए व्यापक जांच जारी रखनी चाहिए. वहीं, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने भी कहा कि दिल्ली में व्यापक जांच जारी रखी जानी चाहिए क्योंकि इन्फ्लुएंजा और कोविड-19 के लक्षण एक जैसे हैं.

    उपराज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में हुई बैठक में दिल्ली में महामारी की स्थिति पर चर्चा की गई और परामर्श दिया गया कि राष्ट्रीय राजधानी में महामारी रोधी रणनीति जारी रखी जानी चाहिए. बैठक के विवरण के अनुसार, राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र के निदेशक डॉक्टर सुजीत कुमार सिंह ने कहा कि दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामले पिछले कुछ समय से 100 से कम रहे हैं. सिंह ने 27 अगस्त को हुई बैठक में कहा था कि शाहदरा जिले में मामलों की वृद्धि की वजह का पता लगाया जाना चाहिए. बैठक में नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वी के पॉल ने कहा कि इन्फ्लुएंजा और कोविड-19 के लक्षण लगभग एक जैसे हैं, इसलिए संपर्कों का पता लगाने एवं इन्फ्लुएंजा जैसी बीमारी और गंभीर श्वसन बीमारी से संबंधित सर्वेक्षण को बढ़ावा दिया जाना चाहिए.

    ये भी पढ़ें :   हमेशा से अनूठे रहे पीएम मोदी, उनके सफर से जुड़ी यादों को समेटने की एक कोशिश

    ये भी पढ़ें :   पूर्व AIADMK मंत्री के घर मिले 34 लाख, रॉल्स रॉयल कार, 5 किलो हीरे-सोने के गहने
    कोरोना की संभावित थर्डवेव से दिल्ली को बचाने के लिए दिल्ली सरकार ने और तेजी से काम करना शुरू कर दिया है. सरकार ने अब नये अस्पतालों का निर्माण करने के लिए नए मानक और तकनीक को अपनाने की तैयारी की है. यह तकनीक न केवल ऊर्जा और पर्यावरण के लिहाज से अच्छी मानी जा रही है बल्कि निर्माण को रफ्तार देने के लिये भी खास होगी. ऐसे नये अस्पतालों के निर्माण करने के लिए इनका स्ट्रक्चर फैक्ट्री में तैयार होकर आएगा. इसको सिर्फ साइट पर लाकर फिट किया जा सकेगा.

    इस संबंध में दिल्ली के स्वास्थ्य एवं लोक निर्माण मंत्री सत्येंद्र जैन ने पीडब्ल्यूडी (PWD) और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ एक अहम मीटिंग भी की है. कई घंटे चली मीटिंग में मंत्री ने सरकार द्वारा बनाए जा रहे 7 नये अस्पतालों पर विस्तार से चर्चा भी की है और इसमें कई अहम निर्णय भी लिए गए हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज