दिल्‍ली-यूपी समेत कई राज्‍यों ने होली पर लगाए प्रतिबंध, यहां जानिये अपने राज्‍य के नियम

कोरोना वायरस संक्रमण के केस में तेजी. (Pic- AP)

कोरोना वायरस संक्रमण के केस में तेजी. (Pic- AP)

Holi in Covid 19 Pandemic: दिल्‍ली सरकार ने कहा है कि राजधानी में होने वाले होली, नवरात्रि, शब-ए-बारात समेत अन्‍य त्‍योहारों पर सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं हो पाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2021, 11:59 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) चिंताजनक स्थिति बनाए हुए है. अधिकांश शहरों में संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. ऐसे में आने वाले त्‍योहारों को लेकर भी बेहद सतर्क रहने की अपील की जा रही है. इसी को देखते हुए दिल्‍ली, उत्‍तर प्रदेश, बिहार और मध्‍य प्रदेश समेत कुछ राज्‍यों में होली समारोह (Holi 2021) को लेकर कुछ प्रतिबंध लगा दिए गए हैं. इसका मकसद कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकना है.

दिल्ली सरकार ने जारी किए दिशानिर्देश

दिल्‍ली सरकार ने कहा कि राजधानी में होने वाले होली, नवरात्रि, शब-ए-बारात समेत अन्‍य त्‍योहारों पर सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं हो पाएंगे. राज्‍य सरकार ने कोरोना के हालात को देखते हुए इस पर बैन लगा दिया है. दिल्‍ली डिजास्‍टर मैनेजमेंट अथॉरिटी ने इस दौरान भीड़ एकत्र करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का फैसला किया है. नए दिशानिर्देशों के तहत किसी भी सार्वजनिक स्‍थान, पार्क, बाजार या धार्मिक स्‍थान पर सार्वजनिक रूप से समारोह आयोजित करने पर रोक लगाई गई है. इसके साथ ही ट्रेनों, बसों और एयरपोर्ट पर भी सख्‍ती बढ़ा दी जाएगी. जिन राज्‍यों में अधिक कोरोना मामले सामने आ रहे हैं, उनसे दिल्‍ली आने वाले लोगों को कोविड टेस्‍ट कराना अनिवार्य होगा. कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर उन्‍हें क्‍वारंटाइन किए जाने का प्रावधान है.

उत्‍तर प्रदेश सरकार ने कही ये बात
राज्‍य में कोरोना संकट को देखते हुए योगी सरकार ने होली को लेकर कुछ दिशानिर्देश जारी किए हैं. यूपी सरकार ने राज्‍य में वरिष्‍ठ नागरिकों और कोरोना से संभावित खतरे वाले लोगों को होली न मनाने की सलाह दी है. होली पर अगर कोई समारोह आयोजित करना चाहता है तो उसे पहले प्रशासन की अनुमति लेनी होगी. अधिक कोरोना केस वाले राज्‍यों से उत्‍तर प्रदेश आने वाले लोगों का कोविड टेस्‍ट होगा. साथ ही 24 मार्च से 31 मार्च तक आठवीं तक के स्‍कूलों में होली की छुट्टी घोषित की गई है.

मध्‍य प्रदेश और बिहार सरकार ने भी लगाए प्रतिबंध

कोरोना को रोकने के लिए मध्‍य प्रदेश की शिवराज सरकार और बिहार की नीतीश सरकार ने भी होली व अन्‍य त्‍योहारों को लेकर कुछ प्रतिबंध लगाए हैं. मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्‍य में लोगों से घरों के अंदर ही होली मनाने की अपील की है. राज्‍य सरकार के अनुसार होली पर इस बार किसी मेले का आयोजन नहीं होगा. किसी भी समारोह में 20 से ज्‍यादा लोगों के एकत्र होने पर पाबंदी होगी. मध्‍य प्रदेश में फेस मास्‍क को लेकर जागरूकता अभियान चलाया जाएगा. मध्‍य प्रदेश में भी स्‍कूलों को 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है. होली पर होने वाले मिलन समारोहों पर बिहार सरकार ने भी रोक लगाई है. दूसरे राज्‍यों से बिहार आने वाले लोगों की एयरपोर्ट और रेलवे स्‍टेशन पर जांच की जाएगी.



मुंबई और चंडीगढ़ में रहेगी ये पांबदी

कोरोना से सबसे खराब हाल महाराष्‍ट्र का ही है. वृहन्मुंबई महानगर पालिका यानी बीएमसी ने शहर में प्राइवेट और सार्वजनिक जगहों पर होली मनाने पर रोक लगा दी है. मुंबई में होलिका दहन और रंग पंचमी लोगों को अपने घरों के अंदर ही मनानी होगी. वहीं चंडीगढ़ में भी होली समारोहों पर रोक लगा दी गई है. क्‍लब, होटल, रेस्‍तरां और गेस्‍ट हाउस में होली पर अधिक लोग नहीं एकत्र हो पाएंगे. सार्वजनिक समारोहों के लिए डिप्‍टी कमिश्‍नर की इजाजत लेनी होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज