लाइव टीवी

Delhi Violence: दिल्ली में हालात सामान्य, हिंसा प्रभावित इलाकों में पुलिस का फ्लैग मार्च

News18Hindi
Updated: February 28, 2020, 9:43 AM IST
Delhi Violence: दिल्ली में हालात सामान्य, हिंसा प्रभावित इलाकों में पुलिस का फ्लैग मार्च
उत्तर-पूर्वी दिल्ली के हिंसाग्रस्त इलाकों में पुलिस और RAF की टीमें फ्लैग मार्च निकाल रही हैं (फोटो: पीटीआई)

दिल्ली में पिछले दिनों भड़की हिंसा (Delhi Violence) में अब तक 38 लोगों की जान जा चुकी है, जबकि 200 से अधिक लोग घायल हो गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2020, 9:43 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली के उत्तर पूर्वी क्षेत्र में भड़की हिंसा (Delhi Violence) के बाद दिल्ली के हालात भले ही सामान्य हो गए हों, लेकिन पुलिस के लिए अभी भी चुनौतियां कम नहीं है. दिल्ली में फैली हिंसा के बाद आज पहला जुमा है. जुमे की नजाम को देखते हुए पुलिस ने अपनी चौकसी और बढ़ा दी है. देर रात तक हिंसा प्रभावित इलाकों में फ्लैग मार्च निकाला गया. बात दें कि दिल्ली में पिछले दिनों भड़की हिंसा में अब तक 38 लोगों की जान जा चुकी है, जबकि 200 से अधिक लोग घायल हो गए.

दिल्ली हिंसा के बाद आज पहली जुमे की नमाज पढ़ी जाएगी. दिल्ली के तनावपूर्ण माहौल को देखते हुए पुलिस की कोशिश है कि आज का दिन शांति से निकल जाए. दिल्ली पुलिस ने इलाके में किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए चप्पे-चप्पे पर अपने सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की है. हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में पुलिस की मुस्तैदी बढ़ा दी गई.

पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि हमारा फोकस पूरी दिल्ली पर है. उन्होंने कहा कि उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालात सामान्य करने की पूरी कोशिश की जा रही है वहीं साउथ दिल्ली के जामिया में भी जुमे की नमाज को देखते हुए सतर्कता बढ़ा दी गई है.



दो एसआईटी की टीम करेगी हिंसा की जांच



दिल्ली हिंसा की जांच स्पेशल इन्वेस्टिगेटिंग टीम (SIT) करेगी. इसके लिए दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के तहत दो एसआईटी का गठन किया गया है. एसआईटी की एक टीम के मुखिया डीसीपी जॉय टिर्की होंगे, जबकि दूसरी टीम के हेड डीसीपी राजेश देव होंगे. दोनों एसआईटी टीमों में चार-चार ACP होंगे यानी कुल आठ एसीपी. इसके अलावा तीन-तीन इंस्पेक्टर, चार-चार सब-इंस्पेक्टर और बाकी पुलिसकर्मी रहेंगे. यह SIT एडिशनल सीपी, क्राइम बीके सिंह की अगुआई में काम करेगी.

इसे भी पढ़ें :- दिल्ली हिंसा: हालात सुधरते ही ब्रह्मपुरी पहुंचे वॉलंटियर्स, हिंसा पीड़ितों को बांट रहे दवा और खाना

दिल्ली सरकार मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये देगी
दिल्ली हिंसा मामले को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हिंसा में हुए घायलों का मुफ्त इलाज कराएंगे. गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये देगी. गंभीर रूप से घायलों को 2 लाख रुपये दिए जाएंगे.

केजरीवाल ने मुआवजे का ऐलान करते हुए कहा कि दिव्यांग हुए लोगों को 5 लाख, जिनका घर जला उन्हें 5 लाख और नाबालिग मृतकों के परिवार को 5 लाख का मुआवजा दिया जाएगा. उन्होंने रिक्शा नुकसान पर 25 हजार और हिंसा में अनाथ हुए बच्चों को 3 लाख रुपये देने का ऐलान किया.

इसे भी पढ़ें :- दिल्ली हिंसा: अब तक 38 की मौत, SIT का गठन, सभी 48 FIR क्राइम ब्रांच को ट्रांसफर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 28, 2020, 8:39 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading