दिल्ली हिंसा: आम आदमी पार्टी का पुलिस से सवाल- बीजेपी नेताओं के खिलाफ FIR कब?

दिल्ली हिंसा: आम आदमी पार्टी का पुलिस से सवाल- बीजेपी नेताओं के खिलाफ FIR कब?
दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर कुल 148 प्राथमिकी दर्ज की गयी हैं तथा 630 लोगों को गिरफ्तार किया गया है (file photo)

पुलिस के मुताबिक, उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा (Delhi Violence) को लेकर कुल 148 प्राथमिकी दर्ज की गई हैं तथा 630 लोगों को गिरफ्तार या हिरासत में लिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 29, 2020, 9:43 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के उत्तर-पूर्वी इलाके में हुई हिंसा  (Delhi Violence) पर राजनीतिक दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. आम आदमी पार्टी के नेता और राज्य सभा सांसद संजय सिंह (Sanjay Singh) ने इस मामले में पुलिस पर सवाल उठाए और पूछा, 'भड़काऊ बयान' देने वाले भाजपा नेताओं का नाम भी शिकायत में शामिल किया गया है या नहीं?' पूछा कि 'क्या इन एफआईआर में भड़काऊ बयान देकर दिल्ली में आग लगाने वालों के नाम शामिल हैं? क्या अब मीडिया पूछेगा कि किसके दबाव में बीजेपी नेताओं ने भड़काऊ बयान दिए हैं?'

प्राप्त जानकारी के अनुसार, उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर पुलिस ने कुल 148 प्राथमिकी दर्ज की हैं तथा 630 लोगों को गिरफ्तार या हिरासत में लिया गया है. दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. प्रवक्ता मनदीप सिंह रंधावा ने कहा कि 'फारेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला दल को बुलाया गया है और अपराध के दृश्यों का फिर से मुआयना किया जा रहा है.'

अमन समितियों के साथ करीब 400 बैठकें की
इन कुल मामलों में 25 मामले हथियार कानून के तहत दर्ज किए गए हैं. रंधावा ने कहा, ‘जांच जारी है और हमनें एएसएल दलों को बुलाया है. हम अपराध की तस्वीरें और वीडियोज़ का फिर से मुआयना कर रहे हैं. हमने स्थिति पर काबू पा लिया है और हालात सामान्य हो रहे हैं. अधिकारियों के साथ क्षेत्रों में (बलों) की तैनाती रहेगी. हमने अमन समितियों के साथ करीब 400 बैठकें की हैं.’
बता दें कि दिल्ली में सांप्रदायिक हिंसा में मृतक संख्या बढ़कर 42 हो गई है. सांप्रदायिक संघर्षों में 250 से अधिक लोग घायल हुए हैं. इनके कारण मुख्य रूप से जो क्षेत्र प्रभावित हुए हैं, उनमें जाफराबाद, मौजपुर, चांदबाग, खुरेजी खास और भजनपुरा शामिल हैं. (एजेंसी इनपुट के साथ)



यह भी पढ़ें: दिल्ली हिंसा: आखिर चार दिन तक कैसे जलती रही नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली? पुलिस के कॉल डिटेल दे रहें इशारा!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज