लाइव टीवी

मजदूरों को बेरोजगार बना रहा है दिल्ली का प्रदूषण!

News18Hindi
Updated: January 16, 2019, 7:53 PM IST
मजदूरों को बेरोजगार बना रहा है दिल्ली का प्रदूषण!
प्रतीकात्मक फोटो (news18.com/Reuters)

बीते साल नवंबर में जब दिल्ली का वायु प्रदूषण 'गंभीर' स्तर पर पहुंचा तो आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार शहर में चल रहे कंन्स्ट्रक्शन को कामों पर रोक लगाने का फैसला किया

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 16, 2019, 7:53 PM IST
  • Share this:
(रौनक कुमार गुंजन)

दिल्ली का वायु प्रदूषण हर साल नए रिकॉर्ड बना रहा है और पुराने रिकॉर्ड को तोड़ रहा है, लेकिन इसी बीच कुछ और चीजें है जो सांस लेने में होने वाली तकलीफों से ज्यादा चिंता की बात है. दिल्ली सरकार कई दूसरे उपाय से प्रदूषण के संकट को कम किया जा सकता है, फिर भी वे प्रवासी मजदूरों को बेरोजगार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं.

बीते साल नवंबर में जब दिल्ली का वायु प्रदूषण 'गंभीर' स्तर पर पहुंचा तो आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार शहर में चल रहे कंन्स्ट्रक्शन को कामों पर रोक लगाने का फैसला किया और उसी दिन हजारों दैनिक-मजदूरी ने अपनी नौकरी गवां दी और मजबूर होकर अपने गांव वापस लौट गए.



लगभग एक महीने तक कंन्स्ट्रक्शन को कामों पर बैन जारी रखना सामान्य बात है.



दिल्ली के कल्यानपुर में काम करने वाले एक मजदूर नरेश कुमार ने कहा, 'आम तौर पर हमें दिवाली या फिर नए साल के दौरान ही ज्यादा काम मिलता था, लेकिन पिछले तीन सालों से हमें इस दौरान काम नहीं मिल रहा है.'

यह आम तौर पर दीवाली और नए साल के दौरान होता है कि हमें सबसे अधिक काम मिलता है लेकिन पिछले तीन सालों से हमारे पास इस दौरान कोई काम नहीं है. नरेश पांच साल पहले काम की तलाश में बिहार से दिल्ली आए थे.

श्रमिक संघ प्रमुखों ने मजदूरों के वापसी के बढ़ते रिकॉर्ड को दर्ज किया है. दिल्ली यूनियन के प्रमुख सत्य मल्लिक बताते हैं कि पिछले तीन सालों से रोजाना जितने मजदूर घर से काम करने के लिए निकलते हैं तो वापस ये उसी संख्या में घर नहीं पहुंचते हैं.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 16, 2019, 7:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading