अपना शहर चुनें

States

ITBP के DG ने रेगिस्तान में 50 घंटे में पूरा किया 200 किलोमीटर का फिट इंडिया मार्च

एस एस देसवाल, डीजी आईटीबीपी ने इस मार्ग को 50 घंटे से भी कम समय में पूरा किया.
एस एस देसवाल, डीजी आईटीबीपी ने इस मार्ग को 50 घंटे से भी कम समय में पूरा किया.

Fit India March: इस 3 दिन के फिटनेस मार्च अभियान को सरदार पटेल के जन्म दिवस पर आयोजित राष्ट्रीय एकता दिवस के मौके पर प्रारंभ किया गया और राष्ट्रीय एकता का सन्देश इसका लक्ष्य था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 2, 2020, 10:10 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. ‘फिट इंडिया अभियान’ के प्रति जागरूकता को एक नई ऊंचाई देने के लिए भारत तिब्बत सीमा पुलिस (Indo-Tibetan Border Police) ने युवा मामलों और खेल मंत्रालय के साथ मिलकर जैसलमेर में ‘फिट इंडिया मिशन 200 किलोमीटर’ (Fit India Mission 200 Kms) का सफल आयोजन किया. जैसलमेर, ‘फिट इंडिया’ अभियान के अंतर्गत भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) युवा मामलों और खेल मंत्रालय के साथ मिलकर जैसलमेर, राजस्थान में 200 किलोमीटर राष्ट्रीय एकता मार्च का एक विशेष आयोजन ‘फिट इंडिया-मिशन 200 किलोमीटर’ का आज समापन हो गया.

एस एस देसवाल, डीजी आईटीबीपी ने इस मार्ग को 50 घंटे से भी कम समय में पूरा किया. आईटीबीपी के कमान्डेंट अजय कुमार सिंह ने 43 घंटे 31 मिनट में दूरी तय करके पहला स्थान प्राप्त किया. इस मार्च को युवा मामले और खेल राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) किरेन रिजीजू ने 31 अक्टूबर, 2020 को इसका फ्लैग ऑफ किया. अपनी तरह के इस पहले 200 किलोमीटर के फिटनेस मार्च में डीजी आईटीबीपी के नेतृत्व में आईटीबीपी के अलावा अन्य पुलिस बलों- सीमा सुरक्षा बल (BSF), केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल (CRPF) , एनडीआरएफ़ (NDRF) आरएएफ़ (RAF), असम राइफल्स, एनएसजी (NSG)  के साथ राजस्थान पुलिस (Rajasthan police), मध्य प्रदेश पुलिस (Madhya pradesh police) आदि के लगभग 100 अधिकारियों ने भाग लिया.

ये भी पढ़ें- LG मनोज सिन्हा ने कहा-2025 तक जम्मू कश्मीर के 80% युवाओं को रोजगार देने की कोशिश, पढ़ें 10 बड़ी बातें



राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर संदेश
इस 3 दिन के फिटनेस मार्च अभियान को सरदार पटेल के जन्म दिवस पर आयोजित राष्ट्रीय एकता दिवस के मौके पर प्रारंभ किया गया और राष्ट्रीय एकता का सन्देश इसका लक्ष्य था. जैसलमेर में तनोट मंदिर से 7 किलोमीटर दूर नाथुवाला गांव से शुरू होकर यह मार्च सकिरेवाला, भुट्टेवाला, कटोच होकर 200 किलोमीटर का पैदल रास्ता तय करते हुए रिवर डिवीज़न 1458 पॉइंट पर सोमवार 2 नवंबर को समाप्त हुआ. इस मार्ग का अधिकतर हिस्सा अंतर्राष्ट्रीय सीमा से लगा हुआ है. आईटीबीपी का यह फिटनेस मार्च भारत सरकार के फिट इंडिया मूवमेंट के प्रति ज्यादा से ज्यादा जागरूकता फ़ैलाने के उद्देश्य से आयोजित किया गया.

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर में आतंक की कमर तोड़ रहे सुरक्षा बल, इस साल 200 आतंकियों का सफाया

आईटीबीपी प्रारंभ से ही फिट इंडिया के विभिन्न अभियानों में अग्रणी भूमिका निभाती रही है और इस साल फिट इंडिया फ्रीडम रन में बल को नोडल एजेंसी नामित किया गया था. एसएस देसवाल, डीजी आईटीबीपी लगभग 2 वर्षों में इससे पहले दर्ज़नों ऐसे मार्च का नेतृत्व कर चुके हैं जिनमें हिमालय से रेगिस्तान और उत्तर पूर्व से समुद्र के किनारों पर आयोजित मार्च शामिल हैं.

‘फिट इंडिया मिशन’ की जागरूकता के तौर पर आयोजित किये गए इस मार्च से युवाओं और आम जन मानस में शारीरिक तंदुरुस्ती के प्रति सकारात्मक भावना उत्पन्न हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज