ITBP के जवानों को वीरता का पदक देने 17,500 किलोमीटर की ऊंचाई पर पहुंचे DG

ITBP के जवानों को वीरता का पदक देने 17,500 किलोमीटर की ऊंचाई पर पहुंचे DG
ITBP के डीजी ने अपने जवानों के पास जाकर किया सम्मानित

ITBP के महानिदेशक (Director General ) एस एस देसवाल ने लदाख में 291 जवानों को उनकी वीरता के लिए पदक सहित प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया. ईस्टर्न लदाख में वीरता के लिए उनका उत्साह भी बढ़ाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 4, 2020, 11:51 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. चीन (China) से सटे सीमावर्ती इलाकों में अपने जवानों का मनोबल बढ़ाने  महानिदेशक द्वारा लगभग 300 किलोमीटर की दूरी 17,500 फीट की ऊंचाई पार करते हुए लगातार सड़क मार्ग द्वारा तय की गई, इसके साथ ही सीमावर्ती इलाकों में 6 रात तक लगातार जवानों के बीच रहे, भ्रमण के दौरान अग्रिम चौकियों में उपलब्ध बुनियादी ढांचे एवं रसद व्यवस्था इत्यादि की भी समीक्षा की गई.

चीन से सटे सीमावर्ती इलाके में तैनात सैकड़ों जवानों का मनोबल बढ़ाने और उनकी वीरता, साहस को बढ़ाने के लिए आईटीबीपी के महानिदेशक (Director General ) एस एस देसवाल एक सप्ताह तक उसी सीमावर्ती इलाकों में प्रवास करते हुए हुए अपने जवानों और उनके अधिकारियों के साथ लगातार बातचीत करते उनकी समस्याओं को खुद सुना और उनकी तमाम समस्याओं का जल्द से जल्द समाधान करने का आदेश भी दिया गया. इस दौरान उन जवानों के साथ रहना और खानपान सहित देश की सीमाओं को कैसे और बेहतर तरीके से सुरक्षित रखना है और कैसे सीमाओं की पहरेदारी को और मजबूत करना है इन मसलों पर भी चर्चा की गई.

ITBP के डीजी ने अपने जवानों के पास जाकर किया सम्मानित



पिछले महीने 15 अगस्त के शुभ अवसर पर वीरता के लिए 291 जवानों के नामों की घोषणा की गई थी. महानिदेशक आईटीबीपी ने लदाख में 291 जवानों को उनकी वीरता के लिए पदक सहित प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया. ईस्टर्न लदाख में वीरता के लिए उनका उत्साह भी बढ़ाया. ITBP के एक जवान जिसे सम्मानित किया गया उसके  मुताबिक पहली बार ऐसा मौका देखने को मिलता है कि जहां आपकी ड्यूटी होती है. वहीं पहुंचकर खुद डीजी साहेब अपने जवानों को वीरता का पदक सौंप रहे हैं. ये हम सब जवानों के लिए भी बेहद खुशी और गर्व का पल था.
ITBP के डीजी ने अपने जवानों के पास जाकर किया सम्मानित


पिछले सप्ताह 23 से 28 अगस्त, 2020 तक भारत तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP ) के महानिदेशक  एस. एस. देसवाल ने लेह-लद्दाख के दुर्गम क्षेत्रों में स्थित आईटीबीपी की अग्रिम चौकियों में जाकर बल के जवानों को सम्मानित किया. आईटीबीपी की सीमा चौकियों में आयोजित विशेष अलंकरण समारोहों में 03 उप महानिरीक्षक समेत 291 पदाधिकारियों को मई और जून, 2020 में सीमा पर उनके साहस और शौर्य के लिए महानिदेशक प्रतीक चिन्हों और प्रशस्ति पत्रों से सम्मानित किया. जिन्होंने ईस्टर्न लदाख में सीमा की सुरक्षा के दौरान अदम्य वीरता का प्रदर्शन किया था और भारतीय सेना के साथ कंधे से कंधा मिलाकर देश की सीमा की विषम हालातों में सुरक्षा की थी.

इस दौरान महानिदेशक द्वारा आईटीबीपी के फील्ड कमाण्डरों तथा आर्मी के कमाण्डरों के साथ कई मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की गई. इस दौरान महानिदेशक के साथ दलजीत सिंह चौधरी, महानिरीक्षक (मुख्यालय),  मनोज सिंह रावत, महानिरीक्षक (ऑप्स‍) और दीपम सेठ, महानिरीक्षक, उत्ततर-पश्चिम फ्रंटियर भी थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज