फ्लाइट में सुरक्षा को लेकर DGCA सख्त, Air Asia India को जारी किया कारण बताओ नोटिस

फ्लाइट में सुरक्षा को लेकर DGCA सख्त, Air Asia India को जारी किया कारण बताओ नोटिस
डीजीसीए ने एयर एशिया इंडिया के प्रमुख को कारण बताओ नोटिस भेजा है.

एयर एशिया इंडिया (Air Asia India) पर आरोप है कि एयरलाइन नोवल कोरोनवायरस (Coronavirus) के प्रसार को रोकने के लिए बनाए गए सुरक्षा प्रोटोकॉल का उल्लंघन कर रही थी, जो सैकड़ों एयर एशिया इंडिया यात्रियों के जीवन को खतरे में डाल सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 29, 2020, 12:28 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. डायरेक्टरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (Director General of Civil Aviation) ने एक पायलट लेवल के कर्मचारी के आरोप के संबंध में एयर एशिया इंडिया (Air Asia India) के प्रमुख को फ्लाइट सेफ्टी और ऑपरेशन के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया है. नोटिस में कहा गया है कि एयरलाइन सुरक्षा के मुद्दे को लेकर समझौता कर रही है. डीजीसीए (DGCA) ने एयर एशिया इंडिया के पायलट गौरव तनेजा (Pilot Gaurav Taneja) के विवाद के संबंध में 'विशेष एयरलाइन' के खिलाफ रखी गई चिंताओं के बारे में दो सप्ताह बाद, एयर एशिया इंडिया के वरिष्ठ कार्यकारी को कारण बताओ नोटिस भेजा है.

मनीकंट्रोल के मुताबिक नियामक के करीबी सूत्रों ने बताया कि DGCA ने मनीष उप्पल, एयरएशिया इंडिया के प्रमुखों को नोटिस भेजा था. एयरलाइन ने मनीकंट्रोल के सवाल का जवाब नहीं दिया है. 15 जून के बयान में, DGCA ने ट्विटर पर कहा कि उसने "कुछ हितधारकों द्वारा एक विशेष एयरलाइन और सुरक्षा के लिए उसके दृष्टिकोण के खिलाफ उठाई गई चिंताओं पर ध्यान दिया है." सूत्रों ने कहा कि "DGCA ने पहले ही उठाए गए मुद्दों की जांच शुरू कर दी है और उक्त जांच के परिणाम के आधार पर उचित कार्रवाई करेगा."

ये था मामला
सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर अच्छी खासी तादाद में फॉलो किये जाने वाले लोकप्रिय ब्लॉगर, गौरव तनेजा का दावा है कि एयरलाइन ने उन्हें "विमान और उसके यात्रियों के सुरक्षित संचालन के लिए खड़े होने" के चलते निलंबित कर दिया है.



तनेजा ने पहले आरोप लगाया कि एयरलाइन नोवल कोरोनवायरस के प्रसार को रोकने के लिए बनाए गए सुरक्षा प्रोटोकॉल का उल्लंघन कर रही थी, जो सैकड़ों एयरएशिया इंडिया यात्रियों के जीवन को खतरे में डाल सकता है.

ये भी पढ़ें- FD से ज्‍यादा मुनाफे के लिए यहां लगाएं पैसा, हर 6 महीने में मिलेगा ब्‍याज

एक वरिष्ठ पायलट ने मनीकंट्रोल को बताया, "तनेजा द्वारा उठाए गए कुछ सरोकार सही हैं. कुछ नहीं भी हो सकते हैं." इस विवाद ने पायलट को समर्थन देने वालों और उनके तरीकों पर सवाल उठाने वालों के बीच ट्विटर पर अक्सर जहरीली बहस छेड़ दी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading