Home /News /nation /

जेलों में कैदियों को मिलेगी फोन की सुविधा, रिश्तेदारों और वकीलों से कर सकेंगे बात

जेलों में कैदियों को मिलेगी फोन की सुविधा, रिश्तेदारों और वकीलों से कर सकेंगे बात

जम्मू-कश्मीर में कैदी अब फोन से घर पर बात कर सकेंगे (फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर में कैदी अब फोन से घर पर बात कर सकेंगे (फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के कारागार पुलिस महानिदेशक (DGP Prison) वी के सिंह ने बुधवार को कहा कि कैदियों के पास जल्द ही ‘कैदी कॉलिंग’ (Inmate Calling) सुविधा होगी, जिससे वे अपने रिश्तेदारों और अधिवक्ताओं से बात कर सकेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
    जम्मू. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के कारागार पुलिस महानिदेशक (DGP Prison) वी के सिंह ने बुधवार को कहा कि कैदियों के पास जल्द ही ‘कैदी कॉलिंग’ (Inmate Calling) सुविधा होगी, जिससे वे अपने रिश्तेदारों और अधिवक्ताओं से बात कर सकेंगे.

    जम्मू स्थित जेलों के अधीक्षकों के एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए सिंह ने कहा कि हालांकि, इस सुविधा का लाभ उन कैदियों को नहीं मिल पाएगी जो गंभीर अपराधों (Henious Crimes) में जेल में बंद हैं अथवा जो जेल में दुर्व्यवहार करते हैं.

    चुनिंदा दिन दो रिश्तेदारों से कर सकेंगे बात
    कारागार पुलिस महानिदेशक वी के सिंह ने बताया कि ‘कैदी कॉलिंग’ सुविधा केंद्रीय कारागार, श्रीनगर (Srinagar) और कोटभलवाल जम्मू के अलावा स्थानीय जिला जेल में शुरू होगी. वी के सिंह ने कहा, ‘‘इस प्रणाली के तहत कैदी चुनिंदा दिनों में अपने दो नजदीकी रिश्तेदारों से पांच मिनट तक बातचीत कर सकते हैं .’’

    मुलाकात के स्थानों में भी किया जा रहा सुधार
    उन्होंने कहा कि विभाग जेलों में केबिन और ‘चाइल्ड फ्रेंडली कॉर्नर’ (Child Friendly Corner) बनाकर मुलाकात वाले स्थानों में सुधार कर रहा है.

    वी के सिंह ने जेलों में व्यावसायिक और शैक्षिक कौशल में सुधार के अलावा सुरक्षा तथा अनुशासन बनाए रखने में किए गए प्रयासों के लिए जेल अधीक्षकों की सराहना की. उन्होंने कहा, ‘‘जेल कर्मचारियों के कल्याण, प्रशिक्षण और उनके विकास पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है.’’

    खेलों और सांस्कृतिक गतिविधियों पर भी जोर 
    इसके अलावा यहां कैदियों को सांस्कृतिक और खेलों से जुड़ी गतिविधियों में भाग लेने के लिए भी प्रोत्साहित किया जा रहा है. इसके अलावा उन्हें और भी कई तरह की ट्रेनिंग दी जा रही है. वी के सिंह ने यह भी बताया कि जम्मू की जिला जेल में दो अक्टूबर की शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. इन सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की 150वीं जयंती पर किया जाएगा.

    यह भी पढ़ें: J&K के DGP बोले- आतंकियों की भर्ती रुकी, लेकिन घुसपैठ की साजिशें जारी

    Tags: Crime report, Jammu and kashmir, Kashmir, Mobile Phone, Police

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर