धर्म के नाम पर बांटने की राजनीति करती है बीजेपीः दिग्विजय सिंह

धर्म के नाम पर बांटने की राजनीति करती है बीजेपीः दिग्विजय सिंह
फाइव फोटो

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने गुरूवार को संघ व भाजपा के करीबी संत शंकराचार्य राजराजेश्वर से उनके आश्रम में मुलाकात की.

  • भाषा
  • Last Updated: September 21, 2017, 2:35 PM IST
  • Share this:
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने गुरुवार को संघ व भाजपा के करीबी संत शंकराचार्य राजराजेश्वर से उनके आश्रम में मुलाकात की. मुलाकात के बाद दिग्विजय सिंह ने कहा कि वह इन दोनों संगठनों की नीतियों के समर्थक नहीं है, जो देश की राजनीति को धर्म के आधार पर विभाजित करने का काम कर रहे हैं.

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वह बांध से विस्थापित हुए लाखों लोगों के मुद्दे पर जनजागरण को लेकर नर्मदा यात्रा शुरू करने जा रहे हैं. यात्रा शुरू करने से पहले वह शंकराचार्य का आशीर्वाद लेने आए थे.

उन्होंने कहा,'धर्मगुरुओं से मिलने में कोई बुराई नहीं है. मैं हिंदू था, मैं हिंदू हूं और हिंदू ही रहूंगा. लेकिन मैं भाजपा या संघ की विचारधारा का समर्थन नहीं करता जो धर्म के आधार पर देश को विभाजित करने की राजनीति कर रहे हैं.'



अपने विवादास्पद बयानों के लिये मशहूर सिंह ने कहा कि योग गुरू बाबा रामदेव के गुरु शंकर देव का आज तक पता नहीं चला है. उन्होंने कहा कि हमने सीबीआई जांच की मांग की थी लेकिन उसका भी कोई नतीजा नहीं निकला.
कांग्रेस नेता हरिद्वार के एक अखाड़े के प्रमुख संत महंत मोहन दास के लापता होने के बारे में पूछे गए एक सवाल पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे.

ये भी पढ़ें

जनता को मूर्ख बना रहे हैं पीएम मोदी और शिवराज: दिग्विजय सिंह
दिग्विजय के बेटे के खिलाफ याचिका खारिज, शिकायतकर्ता पर लगाया 25,000 जुर्माना
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading