क्या कन्नौज से जीत की हैट्रिक बना पाएंगी डिंपल यादव!

कन्नौज की सीट से फिर लोकसभा चुनाव लड़ने जा रही हैं डिंपल यादव. 2014 में मोदी लहर होते हुए भी डिंपल ने इस सीट को सपा के कब्जे में बनाए रखा था.

News18Hindi
Updated: April 19, 2019, 8:54 AM IST
क्या कन्नौज से जीत की हैट्रिक बना पाएंगी डिंपल यादव!
फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: April 19, 2019, 8:54 AM IST
अगर किसी को बड़जात्या स्टाइल की फिल्म बनानी हो तो उसके लिए समाजवादी पार्टी (सपा) शानदार टॉपिक हो सकता है. भाई-भतीजा विवाद हो या पिता-पुत्र के बीच अनबन यहां हर तरह का मसाला मिलेगा. इससे भी बड़ी बात है कि इस फिल्म की मुख्य किरदार हो सकती हैं इस घर की बहू डिंपल यादव, जो परिवार के साथ ही पार्टी में भी एक्टिव हैं. इस बार भी चुनावी समर मेंंकमर कसकर कूद पड़ी हैं.  अब यह तो 23 मई को पल पता चल पाएगा कि वह जीत की हैट्रिक लगा पाती हैं या नहीं.

डिंपल की झोली में पहली जीत तब पड़ी जब उनके पति अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद कन्नौज लोकसभा सीट छोड़ दी थी. 2012 के उपचुनाव में डिंपल यादव ने निर्विरोध जीत दर्ज की थी. इसके बाद 2014 में जब देश भर में मोदी लहर थी तब भी डिंपल ने इस सीट को सपा के कब्जे में बनाए रखा था. अगर डिंपल 2019 लोकसभा चुनाव में भी इस सीट से जीत हासिल कर लेती हैं तो ये उनकी लगातार तीसरी विजय होगी.

ये भी पढ़ें: साध्वी प्रज्ञा की उम्मीदवारी के खिलाफ EC में शिकायत, चुनाव लड़ने से रोकने की मांग

डिंपल ने हमेशा एक आदर्श बहू और भाभी की भूमिका अच्छे से निभाई है. अब उन्होंने अपनी पार्टी के दिग्गज नेता आजम खान का साथ देना शुरू कर दिया है. गौरतलब है कि खान पर बीजेपी सांसद जया प्रदा को लेकर गलत बयानबाजी का आरोप है. आजम की बयानबाजी को लेकर उन्होंने कहा कि यह छोटी सी बात है. वहीं, दूसरी तरफ आजम की इस बयानबाजी को लेकर उन्हीं की पार्टी के कुछ लोगों ने इस बात को गलत बताया है.

ये भी पढ़ें: साध्वी को जिताने के लिए BJP ने कसी कमर, शिवराज ने सभी से एकजुट होने का किया आह्वान

सपा की स्टार प्रचारक
डिंपल हमेशा से समाजवादी पार्टी की स्टार प्रचारक रही हैं. 2017 के विधानसभा चुनावों के दौरान डिंपल को युवाओं ने भाभी कहकर संबोधित किया था. इसके बाद पूरे राज्य में वह भाभी के नाम से ही पहचानी जानें लगीं. इस दौरान अखिलेश ने भी माना था कि डिंपल उनसे ज्यादा लोगों को जुटाने में समर्थ हैं.
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: April 18, 2019, 6:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...