अपना शहर चुनें

States

दिव्या गोपीनाथ करेंगी कडक्कावूर यौन शोषण मामले की जांच

तिरुवनंतपुरम की पुलिस उपायुक्त गोपीनाथ कडक्कावूर यौन शोषण मामले की जांच करेंगी. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)
तिरुवनंतपुरम की पुलिस उपायुक्त गोपीनाथ कडक्कावूर यौन शोषण मामले की जांच करेंगी. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

Kadakkavoor Sexual Abuse Case: 35 वर्षीय महिला द्वारा अपने ही नाबालिग बेटे का कथित तौर पर यौन शोषण करने के मामले की जांच वरिष्ठ पुलिस अधिकारी दिव्या गोपीनाथ करेंगी. पुलिस ने यह जानकारी दी. केरल में कडक्कावूर के पास यह घटना हुई थी. आरोपी महिला को केरल उच्च न्यायालय ने जमानत प्रदान की थी.

  • Last Updated: January 26, 2021, 10:34 AM IST
  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. केरल में कडक्कावूर के पास 35 वर्षीय महिला द्वारा अपने ही नाबालिग बेटे का कथित तौर पर यौन शोषण करने के मामले की जांच वरिष्ठ पुलिस अधिकारी दिव्या गोपीनाथ करेंगी. पुलिस ने यह जानकारी दी. गोपीनाथ तिरुवनंतपुरम की पुलिस उपायुक्त हैं. इस बाबत पुलिस महानिदेशक लोकनाथ बेहरा ने सोमवार को आदेश जारी किए. आरोपी महिला ने दावा किया था कि वह निर्दोष है. उसके विरक्त पति एवं उसकी दूसरी पत्नी ने झूठे मामले में फंसाया है. हाल ही में महिला को केरल उच्च न्यायालय ने जमानत प्रदान की थी. महिला को पोक्सो अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया गया था.

वहीं एक अन्‍य केस में केरल की एलडीएफ सरकार ने राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री उमान चांडी के खिलाफ चल रहे सोलर घोटाले की जांच सीबीआई को सौंपने की घोषणा की है. इस मामले में चांडी के अलावा पांच अन्य लोग भी नामजद हैं और इनके खिलाफ इस चर्चित सोलर घोटाले में यौन उत्पीड़न के आरोप हैं.





हालांकि, अब सीबीआई की तिरुवनंतपुरम यूनिट को आठ साल पुराने इस मामले को अपने हाथ में लेने का निर्णय करना है. इस घोटाले में जिन लोगों के नाम शामिल हैं वे हैं चांडी के अलावा कांग्रेस सांसद और राज्य मंत्रिमंडल में मंत्री रह चुके अदूर प्रकाश, हिबी ईडन, कांग्रेस विधायक और राज्य में मंत्री रह चुके एपी अनिल कुमार, बीजेपी के वर्तमान उपाध्यक्ष एपी अब्दुल्लाकुट्टी जो घोटाले के समय कांग्रेस के विधायक थे. दिलचस्प यह है कि शुक्रवार को चांडी को संयुक्त लोकतांत्रिक मोर्चा (यूडीएफ) की चुनाव समिति का संयोजक नियुक्त किया गया. कांग्रेस ने केरल सरकार के इस निर्णय को ‘राजनीति से प्रेरित’ बताया और चांडी ने कहा कि वह किसी भी तरह की जांच का सामना करने को तैयार हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज