Home /News /entertainment /

divyanka tripathi says she was typecast after her show banoo main teri dulhann

जब दिव्यांका त्रिपाठी को काम मिलना हो गया था बंद, प्रोड्यूसर कहते थे- 'आपको कोई नहीं देखेगा'

दिव्यांका त्रिपाठी ने अपने करियर की शुरुआत में जिन रिजेक्शन का सामना किया, उनके बारे में बात की (फोटो क्रेडिट : Instagram @divyankatripathidahiya)

दिव्यांका त्रिपाठी ने अपने करियर की शुरुआत में जिन रिजेक्शन का सामना किया, उनके बारे में बात की (फोटो क्रेडिट : Instagram @divyankatripathidahiya)

दिव्यांका त्रिपाठी (Divyanka Tripath) ने अपने करियर की शुरुआत में जिन रिजेक्शन का सामना किया, उनके बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, “मैंने उन्हें कभी भी रिजेक्शन के रूप में नहीं लिया. एक बात मुझे हमेशा से समझ में आई है कि अगर मैं किसी प्रोजेक्ट का हिस्सा नहीं होती हूं, तो यानी उसमें मेरे काम की कोई डिमांड नहीं है. हो सकता है कि उन्हें एक ऐसे व्यक्ति की जरूरत हो, जो मुझसे अलग दिखे, क्योंकि मैं कोई आलू तो हूं नहीं कि हर सब्जी में घुल जाऊं."

अधिक पढ़ें ...

टेलीविजन दुनिया की सबसे पॉपुलर एक्ट्रेसेस में से एक दिव्यांका त्रिपाठी (Divyanka Tripath) ने अपने करियर की शुरूआत जी टीवी के हिट शो ‘बनूं मैं तेरी दुल्हन’ (Banu Main Teri Dulhan) से की थी. इस शो में भोली भाली ‘विद्या प्रताप सिंह’ के किरदार में दिव्यांका को इतना पसंद किया गया कि वह घर-घर पर छा गईं. इस एक किरदार के जरिए ही इंडस्ट्री में दिव्यांका की अलग पहचान बन गई और वह करियर में आगे ही आगे बढ़ती गईं. लेकिन हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में दिव्यांका ने बताया कि कैसे इस पहले शो के बाद ही उन्हें इंडस्ट्री में काम तलाशने के लिए संघर्ष करना पड़ा.

पिंकविला के साथ एक बातचीत में दिव्यांका ने अपने करियर की शुरुआत में जिन रिजेक्शन का सामना किया, उनके बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, “मैंने उन्हें कभी भी रिजेक्शन के रूप में नहीं लिया. एक बात मुझे हमेशा से समझ में आई है कि अगर मैं किसी प्रोजेक्ट का हिस्सा नहीं होती हूं, तो यानी उसमें मेरे काम की कोई डिमांड नहीं है. हो सकता है कि उन्हें एक ऐसे व्यक्ति की जरूरत हो, जो मुझसे अलग दिखे या मुझसे अलग परफॉर्म करे, क्योंकि मैं कोई आलू तो हूं नहीं कि हर सब्जी में घुल जाऊं.”

एक इमेज में बंध जाने के कारण आई थी ये समस्या
दिव्यांका ने आगे कहा, “अगर आपको ऑडिशन मिलेंगे, तो रिजेक्शन भी मिलेगा, लेकिन अगर आपको बिल्कुल भी ऑडिशन नहीं मिल रहे हैं तो क्या होगा? दरअसल, ‘बनू मैं तेरी दुल्हन’ में मुझे तुलसी (क्योंकि सास भी कभी बहू थी) और पार्वती (कहानी घर घर की) की तरह टाइपकास्ट किया गया था. इसलिए बाद के निर्माताओं ने मुझे कास्ट करना बंद कर दिया. वे कहते थे कि ‘आप तुलसी और पार्वती जैसी हो गई हैं, इसलिए हम आपको फिर से कास्ट नहीं कर सकते, कोई आपको नहीं देखेगा”.

‘कुछ चीजों ने मुझे यहां रोके रखा’
दिव्यांका त्रिपाठी आगे कहती हैं, “उस दौर में हमारे पास इतने मौके नहीं होते थे, तो खुद पर शक होने लगता था. कई बार लगता था कि अपना सामान बांधकर भोपाल वापस लौट जाऊं, लेकिन न जाने कुछ चीजों ने मुझे यहां रोके रखा.” दिव्यांका को टीवी सीरियल ‘ये हैं मोहब्बतें में’ डॉक्टर इशिता के किरदार ने अच्छी लोकप्रियता दिलाई. इसके बाद, साल 2017 में उन्होंने पति विवेक दहिया के साथ डांस रियलिटी शो ‘नच बलिए 8’ में भाग लिया और विजेता के रूप में उभरीं. वहीं, पिछले साल उन्होंने ‘खतरों के खिलाड़ी 11’ में भाग लिया और उपविजेता रहीं.

Tags: Divyanka Tripathi, Entertainment

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर