देशभर में पारंपरिक श्रद्धा एवं हर्षोल्लास के साथ मनायी गयी दीपावली

देशभर में पारंपरिक श्रद्धा एवं हर्षोल्लास के साथ मनायी गयी दीपावली
तस्वीर- PTI

दीपावली के मौके पर लोग अपने रिश्तेदारों के यहां गए और त्योहार की शुभकामनाएं दीं. वहीं व्हाट्सएप, फेसबुक और ट्विटर पर दीपावली की शुभकामनाओं के संदेशों की बाढ़ आ गई.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
पूरे देश में दीपावली का पर्व बुधवार को पारंपरिक श्रद्धा एवं हर्षोल्लास के साथ मनाया गया. लोगों ने अपने घरों एवं प्रतिष्ठानों को दीपों एवं झालरों से सजाया और पटाखे फोड़ कर तथा मित्रों एवं रिश्तेदारों में मिठाइयां बांट कर उत्साह के साथ त्योहार मनाया. दीपावली के मौके पर लोग अपने रिश्तेदारों के यहां गए और त्योहार की शुभकामनाएं दीं. वहीं व्हाट्सएप, फेसबुक और ट्विटर पर दीपावली की शुभकामनाओं के संदेशों की बाढ़ आ गई.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देशवासियों को दीपावली की शुभकामनाएं देते हुए लोगों से त्योहार की खुशियों को कमजोर और वंचित तबके के साथ साझा करने की गुजारिश की. राष्‍ट्रपति ने इस अवसर पर सभी देशवासियों से प्रदूषण मुक्‍त और सुरक्षित दीपावली मनाने को भी कहा.

कोविंद ने मंगलवार को अपने संदेश में कहा, ‘दीपावली के शुभ अवसर पर मैं भारत और दुनियाभर में सभी देशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं देता हूं.' उन्होंने कहा, 'दीपावली अंधकार से प्रकाश की ओर ले जाने वाला पर्व है. आइए, हम इस महान पर्व पर वंचित और जरूरतमंद लोगों की सहायता करते हुए अपनी खुशियों को अधिक से अधिक बांटें.'



यह भी पढ़ें:  प्रदूषण रहित दीपावली का जश्न, 1000 दीए जलाकर बनाया देश का नक्शा



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत-चीन सीमा के पास बर्फीले पहाड़ों पर सेना और भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल (आईटीबीपी) के जवानों के साथ दिवाली मनाई. मोदी ने जवानों से कहा कि दूर-दराज के इलाकों में बर्फीले पहाड़ों पर ड्यूटी करने की उनकी लगन राष्ट्र की ताकत को और मजबूत बनाती है.

हर्षिल छावनी क्षेत्र में जवानों को शुभकामनाएं देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि वे अपनी प्रतिबद्धता और अनुशासन के जरिये 125 करोड़ भारतीयों के सपने एवं भविष्य को सुरक्षित करते हैं और लोगों में सुरक्षा और निडरता का भाव पैदा करने में मदद करते हैं. बाद में प्रधानमंत्री ने केदारनाथ जाकर पूजा अर्चना की और केदारपुरी में चल रही पुनर्निर्माण परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा की.

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने भारत-चीन सीमा के निकट अरुणाचल प्रदेश में सुदूर चौकियों में सेना के जवानों के साथ दिवाली का जश्न मनाया. कोहिमा के रक्षा प्रवक्ता कर्नल चिरंजीत कंवर ने बताया कि उन्होंने पहले सीमा के निकट अग्रिम चौकी रोचचाम के लिए उड़ान भरी और इसके बाद अंजॉ जिले में हुलियांग चौकी की यात्रा की.

यह भी पढ़ें: दुनिया का सबसे बड़ा जुआरी जिसने गैम्बलिंग में कमा लिए 15 करोड़ डॉलर

इसके साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक ट्वीट में कहा, ' दिवाली के शुभ अवसर पर सभी भारतीयों को मेरी शुभकामनाएं. मैं आपके सुख एवं खुशहाली की कामना करता हूं.'  अभिनेता अमिताभ बच्चन, निर्माता निर्देशक करण जौहर और अभिनेत्री अनुष्का शर्मा समेत बॉलीवुड की अन्य हस्तियों ने लोगों को दीपावली की शुभकामनाएं दीं.

राजधानी दिल्ली सहित देश के विभिन्न इलाकों में दीपावली पर विशेष चहल-पहल देखी गयी. लोगों ने इस अवसर पर शाम को होने वाले लक्ष्मी गणेश पूजन से पहले त्योहार के लिए खरीदारी की. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में इस बार सुप्रीम कोर्ट के आदेश के कारण पिछले कुछ सालों की तुलना में अपेक्षकृत कम पटाखे फोड़े गये. दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए अदालत ने अपने एक आदेश में कहा था कि दीपावली के दिन रात आठ बजे से दस बजे तक निर्धारित स्थलों पर ही हरित पटाखे फोड़े जाएंगे.

दिल्ली पुलिस ने द्वारका के अलग-अलग इलाकों से बिना लाइसेंस के पटाखे रखने के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है और 240 किलोग्राम अवैध पटाखे जब्त किए हैं.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के मुताबिक, समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 281 दर्ज किया गया जो ‘खराब’ श्रेणी में आता है. केंद्र सरकार की वायु गुणवत्ता पूर्वानुमान और अनुसंधान प्रणाली (सफर) ने समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक 319 दर्ज किया जो ‘बहुत खराब’ श्रेणी में आता है. भारत के विभिन्न स्थलों में दीपावली के अवसर पर मंदिरों को भी सजाया गया है. मंदिरों में रंग बिरंगे प्रकाश की विशेष व्यवस्था की गयी है.

यह भी पढ़ें:  'आतिशबाजी की राजधानी' कैसे बना शिवकाशी शहर

लोगों ने शाम को लक्ष्मी-गणेश पूजन के बाद अपने मित्रों एवं रिश्तेदारों को मिठाइयां बांटीं तथा पटाखे फोड़े. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर के वनटांगियां गांव तिनकोनिया नं0-3 में बुधवार को करीब 215 लाख रुपये की लागत से कुल छह परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास कर ग्रामीणों को दीपावली की सौगात दी.

राजस्थान में दिवाली का त्योहार बुधवार को हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है. प्रदेशवासियों ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर दिवाली की शुभकामनाएं दीं, वहीं छोटे बच्चों ने पटाखे छोड़कर त्योहार का आनंद उठाया. संवेदनशील और भीड़भाड़ वाले इलाकों में अतिरिक्त पुलिसकर्मी और अधिकारियों को कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिये तैनात किया गया है.

सीमावर्ती इलाकों में तैनात सैनिकों तथा सेना की यूनिटों ने दीपावली के अवसर पर परस्पर मिठाइयां बांटी और एक दूसरे को शुभकामनाएं दीं. अमृतसर के समीप अटारी-वाघा पर सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) और पाकिस्तानी रेंजर के जवानों ने दीपावली के अवसर पर मिठाइयों का आदान- प्रदान किया और शुभकामनाएं दीं.   वहीं, पश्चिम बंगाल में दिवाली के मौके पर कोलकाता और आस-पास के इलाकों में प्रतिबंधित पटाखे फोड़ने के आरोप में 200 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया.

प्रदेश में मंगलवार को सामुदायिक काली पूजा की गई थी लेकिन मूर्ति विसर्जन नहीं किया गया था. समूचे शहर में हर जगह जगमगाते पंडाल दिखे. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोगों को दीपावली की शुभकामनाएं देते हुए टि्वटर पर कहा, ' दीपावली के मौके पर सभी को तहेदिल से शुभकामनाएं.

यह भी पढ़ें:  दीवाली पर उल्लुओं की पूजा का मां लक्ष्मी से क्या कनेक्शन है?
First published: November 7, 2018, 10:41 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading