असम: सहकर्मी की मौत पर डॉक्टरों की हड़ताल, भीड़ ने पीट-पीटकर करी दी थी हत्या

भारतीय चिकित्सा एसोसिएशन (IMA) की असम इकाई के आह्वान पर सरकारी-निजी और कंसल्टेशन चैम्बरों के डॉक्टर सुबह 6 बजे से काम नहीं कर रहे हैं,

भाषा
Updated: September 3, 2019, 1:31 PM IST
असम: सहकर्मी की मौत पर डॉक्टरों की हड़ताल, भीड़ ने पीट-पीटकर करी दी थी हत्या
सहकर्मी की मौत के बाद असम में डॉक्टरों की हड़ताल (प्रतीकात्मक तस्वीर)
भाषा
Updated: September 3, 2019, 1:31 PM IST
गुवाहाटी: असम (Assam) के चाय बगान में एक बुजुर्ग डॉक्टर (Doctor) की पीट-पीटकर हत्या करने का माले में डॉक्टर 24 घंटे की हड़ताल पर हैं. इस हड़ताल के दौरान डॉक्टर सिर्फ आपात सेवा मुहैया कराएंगे. जोरहट जिले में शनिवार को तियोक चाय बगान  (Tea Plantation) के एक अस्पताल में एक बगान कर्मी की मौत के बाद उसके रिश्तेदारों ने 73 वर्षीय डॉक्टर देबेन दत्त की जमकर पिटाई की थी. जिसके बाद उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई.

भारतीय चिकित्सा एसोसिएशन (IMA) की असम इकाई के आह्वान पर सरकारी-निजी और कंसल्टेशन चैम्बरों के डॉक्टर सुबह 6 बजे से काम नहीं कर रहे हैं, लेकिन वह मरीजों को आपात सेवा मुहैया करा रहे हैं.

दोषियों को कड़ी सजा देने की मांग
स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि छह सरकारी मेडिकल कॉलेज एंड सिविल हॉस्पिटल, फैमिली रेफरल इकाइयां और प्राथमिक चिकित्सा केंद्र सिर्फ आपात सेवा और दुर्घटना विभाग में सेवा दे रहे हैं. आईएमए ने सरकार से दोषियों को कड़ी सजा देने की मांग की है और चाय बगान समेत सभी जगह के स्वास्थ्य प्रतिष्ठानों में सर्विलांस कैमरा लगाने सहित अन्य सुरक्षा उपाय बढ़ाने की मांग की है.

26 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार
तियोक चाय बागान से कुल 26 लोगों को हिरासत में लिया गया है. पुलिस महानिरीक्षक (कानून व्यवस्था) दीपक केडिया ने स्थिति का जायजा लेने के लिए चाय बगान का दौरा किया.

मजिस्ट्रेट जांच के आदेश
Loading...

जोरहट की उपायुक्त रोशनी अपारंजी कोराटी ने दत्त पर हमला के मामले में मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं. दत्त चाय बगान के अस्पताल में सेवानिवृत्ति के बाद बिना पारिश्रमिकी के काम कर रहे थे.

ये भी पढ़ें-

कभी पाकिस्तानियों का फेवरिट रहा भारत का ये सिनेमा हॉल हुआ बंद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 3, 2019, 1:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...