लाइव टीवी

डोनाल्ड ट्रंप बोले- भारत जाने के लिए उत्सुक, दोनों देशों की दोस्ती मजबूत करेगी ये यात्रा

News18Hindi
Updated: February 13, 2020, 5:41 PM IST
डोनाल्ड ट्रंप बोले- भारत जाने के लिए उत्सुक, दोनों देशों की दोस्ती मजबूत करेगी ये यात्रा
अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आमंत्रण पर 24-25 फरवरी के दो दिवसीय भारत दौरे पर होंगे.

व्हाइट हाउस (White House) द्वारा ट्रंप की भारत यात्रा की तारीखों की घोषणा के एक दिन बाद राष्ट्रपति ने अपने ओवल कार्यालय में संवाददाताओं से कहा,"वह (मोदी) बहुत भद्र पुरुष हैं और मैं भारत जाने को उत्सुक हूं. हम इस माह के अंत में जाएंगे."

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 13, 2020, 5:41 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (American President Donald Trump) ने कहा है कि वह इस माह अपनी पहली भारत यात्रा को लेकर उत्सुक हैं. उन्होंने संकेत दिए कि उनकी इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर हो सकते हैं. ट्रंप प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) के आमंत्रण पर 24-25 फरवरी के दो दिवसीय भारत दौरे पर होंगे. अमेरिकी राष्ट्रपति गुजरात (Gujarat) के अहमदाबाद (Ahmedabad) भी जाएंगे और वहां एक स्टेडियम में मोदी के साथ जनसभा को संबोधित करेंगे. पीएम मोदी ने बुधवार को अपने ट्वीट में कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा विशेष है तथा यह भारत..अमेरिका मैत्री को और मजबूत बनाने की दिशा में अहम कदम साबित होगी.

वहीं, व्हाइट हाउस (White House) द्वारा ट्रंप की भारत यात्रा की तारीखों की घोषणा के एक दिन बाद राष्ट्रपति ने अपने ओवल कार्यालय में संवाददाताओं से कहा,"वह (मोदी) बहुत भद्र पुरुष हैं और मैं भारत जाने को उत्सुक हूं. हम इस माह के अंत में जाएंगे."

व्यापार बढ़ाने के समझौते हो सकते हैं हस्ताक्षर
ट्रंप ने एक प्रश्न के उत्तर में संकेत दिए कि वह भारत के साथ व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर करने के इच्छुक हैं. उन्होंने कहा, "वे (भारतीय) कुछ करना चाहते हैं और हम देखेंगे...अगर हम कोई सही समझौता कर सके तो उसे करेंगे." दोनों देश मतभेदों का समाधान करने और व्यापार को बढ़ावा देने के लिए एक व्यापार समझौते पर चर्चा कर रहे हैं.

नई दिल्ली में एक अधिकारी ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप की यात्रा से पहले भारत और अमेरिका प्रस्तावित व्यापार समझौते को लेकर गहन विमर्श कर रहे हैं. अधिकारी ने हालांकि कहा कि अब तक यह साफ नहीं है कि ट्रंप की यात्रा के दौरान समझौते पर हस्ताक्षर होंगे या नहीं. पिछले कुछ सप्ताहों में वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल और अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइथिजर के बीच टेलीफोन पर कई दौर की बात हो चुकी है.

भारत कुछ इस्पात और अल्युमिनियम उत्पादों पर अमेरिका द्वारा लगाए गए उच्च शुल्क, कुछ उत्पादों पर निर्यात लाभों की शुरुआत करने, कृषि, ऑटोमोबाइल, ऑटो कलपुर्जों और अभियांत्रिकी क्षेत्रों से अपने उत्पादों के लिए व्यापक बाजार पहुंच की मांग कर रहा है. वहीं, दूसरी तरफ अमेरिका अपने कृषि और विनिर्माण, डेयरी उत्पादों तथा चिकित्सा उपकरणों के लिए व्यापक बाजार पहुंच तथा अन्य रियायत चाहता है.

'डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा विशेष है'प्रधानमंत्री मोदी ने अपने ट्वीट में कहा, "भारत और अमेरिका के मजबूत संबंध न केवल हमारे नागरिकों के लिए, बल्कि पूरे विश्व के लिए बेहतर होंगे." पीएम मोदी ने कहा कि भारत और अमेरिका लोकतंत्र तथा बहुलतावाद के प्रति साझी प्रतिबद्धता रखते हैं और दोनों देश व्यापक मुद्दों पर करीबी सहयोग कर रहे हैं. प्रधानमंत्री ने कहा, "अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा विशेष है तथा यह भारत..अमेरिका मैत्री को और मजबूत बनाने की दिशा में अहम कदम साबित होगी."

अमेरिका में भारत के नए राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने वाशिंगटन में 'पीटीआई-भाषा' से कहा कि ट्रंप की होने वाली यात्रा ट्रंप और मोदी के बीच "मजबूत व्यक्तिगत घनिष्ठता को दर्शाती है." संधू ने कहा,"यह संबंधों को नयी ऊंचाई पर ले जाने की उनकी मजबूत इच्छाशक्ति को भी दर्शाती है."

गौरतलब है कि पिछले तीन वर्षों में मोदी और ट्रंप के बीच मित्रवत संबंध रहे हैं. ह्यूस्टन में 50 हजार भारतीयों के समक्ष संयुक्त ऐतिहासिक संबोधन सहित 2019 में दोनों नेताओं ने चार बार मुलाकात की थी. इसके अलावा इस वर्ष अब तक दोनों दो बार फोन पर बातचीत कर चुके हैं जिसमें एक बातचीत गत सप्ताहांत हुई थी.

भारत यात्रा से जुड़े एक प्रश्न पर ट्रंप ने मंगलवार को संवाददाताओं से कहा, "अभी प्रधानमंत्री मोदी से बात की." उन्होंने मोदी के साथ हुई अपनी बातचीत का जिक्र करते हुए कहा था कि प्रधानमंत्री ने स्पष्ट रूप से उन्हें बताया है कि अहमदाबाद में उनके स्वागत के लिए लाखों लोग मौजूद होंगे.

ट्रंप ने कहा मोदी बनवा रहे हैं सबसे बड़ा स्टेडियम
ट्रंप ने मजाकिया लहजे में संवाददाताओं से कहा कि अमेरिका में आमतौर पर जितने लोगों को वह संबोधित करते हैं, उन्हें अब उसकी 'ज्यादा खुशी नहीं' होगी. वहां संबोधन के दौरान 40 से 50 हजार के बीच लोग होते हैं. ट्रंप ने कहा, "उन्होंने (मोदी) कहा कि वहां लाखों की संख्या में लोग होंगे. मेरी समस्या केवल यह है कि बीती रात हमारे पास संभवत: 40 अथवा 50 हजार लोग थे...मैं इससे बहुत खुश नहीं होने वाला...वहां हवाईअड्डे से नए स्टेडियम (अहमदाबाद में) तक ही 50 से 70 लाख लोग होंगे."

ट्रंप ने कहा, "आपको पता है कि वह दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम है. वह (मोदी) इसका निर्माण करा रहे हैं. यह लगभग तैयार है और दुनिया में सबसे बड़ा है." दोनों नेताओं का अहमदाबाद में नवनिर्मित मोटेरा स्टेडियम में संयुक्त संबोधन का कार्यक्रम है जिसमें एक लाख 10 हजार लोगों के बैठने की क्षमता है. यह ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड से भी बड़ा है जिसमें केवल 1,00,024 लोगों के बैठने की क्षमता है.

ये भी पढ़ें-
तो क्‍या FATF की ब्‍लैक लिस्‍ट में शामिल होने से फिर बच जाएगा पाकिस्‍तान?

कैसी है ‘केम छो ट्रंप’ की तैयारी, क्यों खास है अमेरिकी राष्ट्रपति का भारत दौरा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Ahmedabad से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 13, 2020, 4:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर