Home /News /nation /

सीमा विवाद: सैन्य कमांडरों को आदेश-अनुशासन रखें, चीनी घुसें तो तुरंत खदेड़ो

सीमा विवाद: सैन्य कमांडरों को आदेश-अनुशासन रखें, चीनी घुसें तो तुरंत खदेड़ो

लद्दाख में भारत ने इस बार वायुसेना को एक्टिव रखा है. एलएसी के पास मिग-29 और सुखोई लड़ाकू विमान से निगरानी की जा रही है. भारतीय सेना और वायुसेना के ड्रोन ड्रैगन की हर चाल का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार है.

लद्दाख में भारत ने इस बार वायुसेना को एक्टिव रखा है. एलएसी के पास मिग-29 और सुखोई लड़ाकू विमान से निगरानी की जा रही है. भारतीय सेना और वायुसेना के ड्रोन ड्रैगन की हर चाल का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार है.

भारतीय सैनिकों (Indian Soldiers) को अपनी सीमाओं की संप्रभुता बनाए रखने के साथ ही किसी भी तरह का चीनी अतिक्रमण (Chinese Transgression) रोकने के आदेश दिए जा चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
    नई दिल्ली. चीन के साथ चल रहे सीमा विवाद (Border Dispute) के बीच सेना (Indian Army) के ग्राउंड कमांडरों को अनुशासन रखने के आदेश दिए गए हैं. साथ ही स्पष्ट रूप से कहा गया है कि चीनी सैनिकों (Chinese Soldiers) को किसी भी कीमत पर भारतीय सीमा के भीतर नहीं घुसने देना है. साफ है कि भारतीय सैनिकों को अपनी सीमाओं की संप्रभुता बनाए रखने के साथ ही किसी भी तरह का चीनी अतिक्रमण रोकने के आदेश दिए जा चुके हैं.

    चीनी सैन्यदल कर रहा फायरिंग अभ्यास
    समाचार एजेंसी एएनआई ने सरकार के सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि फील्ड कमांडरों से कहा गया है कि अपने इलाकों में पेट्रोलिंग के दौरान शक्ति का अन्यथा प्रदर्शन नहीं करना है. सूत्रों का कहना है कि वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास चीनी पक्ष अपनी तरफ फायरिंग प्रैक्टिस भी कर रहा है. चीन ये प्रैक्टिस भले ही अपने इलाकों में कर रहा है लेकिन इसकी आवाज भारतीय इलाकों में आती है.

    चीनी सैनिकों ने जमा कर रखी युद्धक सामग्री
    भारतीय पक्ष ने ब्रिगेडियर लेवल की सैन्य बातचीत के दौरान चीनी सैनिकों द्वारा भाला और धारदार हथियार साथ में रखने का मामला भी उठाया है. सूत्रों का कहना है कि चीन ने वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास करीब 50 हजार सैनिकों का जमावड़ा कर रखा है जिनके पास टैंक्स और अन्य युद्धक सामान मौजूद हैं. इसके अलावा भी इलाकों में युद्धक सामग्री की संख्या बढ़ाई जा रही है.



    चीनी सैनिकों पर नहीं किया जा सकता भरोसा
    इससे पहले एक शीर्ष सरकारी सूत्र के हवाले से खबर आई थी , 'फेस-ऑफ की भविष्यवाणी करना मुश्किल है, लेकिन हम युद्ध की दहलीज तक नहीं पहुंचे हैं. चीजें एक पूर्ण विकसित संघर्ष तक का निर्माण करती हैं, लेकिन अभी तक केवल मामूली बातें ही हुई हैं. अभी चीनी तैनाती ज्यादा फुर्तीले नहीं हैं.' हालांकि उन्होंने यह भी कहा है- 'आप चीनियों पर भरोसा नहीं कर सकते. 29 तारीख की सुबह, चुशुल में चीनी कमांडर ने अपने भारतीय समकक्ष से बात की थी. और फिर भी, उसी रात, उन्होंने हमारी पोस्ट की ओर अपने लोगों को भेज दिया.'

    Tags: Galwan Valley, India-china face-off, India-China LAC dispute, Ladakh Border, Ladakh Border Dispute

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर